IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल

IPL के हर सीजन में ऐसे कई क्रिकेटर आते हैं जो अपने स्वभाव, कौशल और दबाव झेल सकने की क्षमता से प्रभावित कर देते हैं

Published
क्रिकेट
6 min read
IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल

IPL के हर सीजन में ऐसे कई क्रिकेटर आते हैं, जो अपने स्वभाव, कौशल और दबाव झेल सकने की क्षमता से प्रभावित कर देते हैं. हालांकि उनका नाम बड़ा नहीं होता, लेकिन अपनी फ्रेंचाइजी के लिए वे बेहद जरूरी भूमिका निभाते हैं और अपनी समझदारी और स्थिरता से वाहवाही बटोरते हैं.

क्रिकेटर जैसे विराट कोहली, हार्दिक पांड्या और आंद्रे रसेल सभी का ध्यान अपनी ओर खींचते हैं, वहीं, दूसरे प्लेयर्स जैसे सूर्यकुमार यादव, नीतीश राणा अपनी शानदार परफॉर्मेंस देने के बाद भी गुमनामी में रहते हैं.

आज हम सभी फ्रेंचाइजी में खेलने वाले आठ प्लेयर्स के बारे जानते हैं, जो IPL 13 में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका से लोगों का ध्यान खींच सकते हैं.

मोइन अली (रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु)

IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल
(फोटो: BCCI)

मोइन अली के बारे में बात करने से पहले, हमें ये जान लेना चाहिए कि वह चंद प्लेयर्स में से एक हैं, जिसे आरसीबी ने आईपीएल 2020 के सीजन के लिए बरकरार रखा है. यानी मैनेजमेंट की नजरों में इंग्लैंड के इस क्रिकेटर की कितनी अहमियत है, ये साफ देखी जा सकती है. मोइन निचले क्रम में खेलने वाले शानदार बल्लेबाज और एक चतुर ऑफ स्पिनर हैं. वाकई, वह यूएई की परिस्थितियों में विपक्षियों के लिए खतरा बन सकते हैं.

बाएं हाथ से खेलने वाले माेइन ने टीम के कई स्लॉट में बल्लेबाजी की है और वह विराट कोहली के फेवरिट भी हैं. टी20 में 121 नॉटआउट का हाइएस्ट स्कोर, घरेलू टी20 मैचों में 19 अर्धशतक के साथ उनका स्ट्राइक रेट 140.60 है, जो बैट्समैन के तौर पर उनको मैच विनर साबित करता है.

और बल्लेबाजी के बाद उनकी ऑफ स्पिन बॉलिंंग भी उन्हें धार देती है. बीते कई सालों में आरसीबी को बॉलिंग विभाग में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, उनको अभी तक मिडिल ऑर्डर में यजुवेंद्र चहल का साथ निभाने वाला सही गेंदबाज नहीं मिला है. मोइन अली का इकनॉमी रेट 8 से नीचे हैं और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़े खिलाड़ियों के सामने उनको बार-बार मिलने वाली सफलता उनके टीम में होने का कारण है.

निकाेलस पूरन (किंग्स इलेवन पंजाब)

निकाेलस पूरन के इस बार आईपीएल में नंबर 5 या 6 पर बल्लेबाजी करने की उम्मीद है. वह वेस्ट इंडियन के उभरते सितारे हैं, जिनकी पंजाब टीम में बड़ी भूमिका होगी. हालांकि फ्रेंचाइजी के पास टॉप ऑर्डर में बेहतरीन प्लेयर्स जैसे केएल राहुल और क्रिस गेल मौजूद हैं, लेकिन मध्य क्रम बेहद कमजोर है, और अब टीम को उम्मीद है कि पूरन इसे मजबूती दे सकते हैं और मैच खत्म कर सकते हैं.

सहज शैली से लैस, टाइमिंग और स्किल के लिहाज से वह फास्ट और स्पिन दोनों को अच्छे से खेल सकते हैं, यानी पूरन यकीनन सीमित ओवर खेलने वाले बेहतरीन क्रिकेटर हैं. भले ही 24 साल का ये क्रिकेटर टी20 इंटरनेशनल में अपनी जगह बनाने के लिए मशक्कत कर रहा हो, लेकिन घरेलू टी20 मैचों में एक शतक, 13 अर्धशतक और 142 का स्ट्राइक रेट उनका बेहतर रिकॉर्ड है.

कीमो पॉल (दिल्ली कैपिटल्स)

IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल
(फोटो: BCCI/IPL)

दिल्ली कैपिटल्स ने इस साल के सीजन के लिए चंद प्लेयर्स को ही बरकरार रखा है, उन्हीं में कीमो पॉल ने भी शामिल हैं. कीमो ने 2019 के सीजन में आठ मैचों में 9 विकेट लेकर अच्छा परफॉर्म किया था. वेस्ट इंडीज क्रिकेट भी इस प्लेयर के बल्ले के साथ मैच खत्म करने और डेथ ओवरों में बॉलिंग की काबिलियत के बारे में जानता है. पॉल की भ्रम में डालने वाली धीमी बॉल यूएई की धूल भरी विकेटों पर अपना जलवा दिखा सकती है, और जब विपक्षी टीम अपना रन रेट बढ़ाने की जल्दबाजी में होती है, तब कीमो की खतरनाक यॉर्कर उन्हें मुश्किल में डाल देती है.

हालांकि पॉल को बीते सीजन में बल्लेबाजी करने के काफी सीमित मौके मिले. वे सिर्फ 18 रन ही बना पाए. लेकिन जरूरत पड़ने पर वह इस विभाग में भी अपना जौहर दिखा सकते हैं और निचले क्रम में उपयोगी साबित हो सकते हैं.

अब्दुल समद (सनराइजर्स हैदराबाद)

IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल
(फोटो: Facebook/Sunrisers Hyderabad)

पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान इस खिलाड़ी को बेहद पसंद करते हैं और इस सीजन में समद पर नजर रखने के लिए कहा है. जम्मू-कश्मीर के घरेलू क्रिकेट में प्रभावशाली परफॉर्मेंस को देखते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने इस लेफ्ट आर्मर अपनी टीम में लिया था.

इस युवा क्रिकेटर ने बीते साल रणजी ट्रॉफी में 36 छक्के जड़े थे, वो भी तब, जब अन्य प्लेयर्स के लिए 30 रन बनाने भी मुश्किल हो रहे थे. समद ने विजय हजारे ट्रॉफी में भी शानदार प्रदर्शन किया था, यहां 125.4 के स्ट्राइक रेट से 237 रन बनाए थे, इसमें 15 छक्कों के साथ तीन अर्धशतक शतक शामिल हैं.

सनराजइर्स टीम काफी असंतुलित है. वह लगातार मैच जिताने वाले प्लेयर्स को खोजने में नाकाम रहे हैं. ऐसा प्लेयर, जो डेविड वॉर्नर, जॉनी बेयरस्टो और केन विलियमसन के अच्छे खेल के बाद गेम को जिताकर वापस लौटे. ऐसे में एक निडर बल्लेबाज और लेग स्पिनर के तौर पर समद अच्छा ऑलराउंडर साबित हो सकता है.

पीयूष चावला (चेन्नई सुपर किंग्स)

जब हरभजन सिंह ने निजी कारणों से खुद को सीजन से अलग कर लिया, तो चेन्नई सुपर किंग्स को बड़ा झटका लगा था. ये टीम जो 'स्पिन करो और जीतो' के मंत्र को गंभीरता से लेती हो, उसके पास पीयूष के तौर पर एक और अच्छा क्वॉलिटी प्लेयर है. वह यूएई के धीमे ट्रैक पर भज्जी की तरह असरदार हो सकते हैं.

पीयूष चावला ने 157 आईपीएल मैच में 150 विकेट लिए हैं. उनका स्ट्राइक रेट 20.82 और इकनॉमी रेट 7.82 है. वह लीग में तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं और रैंक में टॉप पर आने के लिए महज 7 विकेट की दरकार है. इसके साथ ही पावरप्ले में गेंदबाजी करने के बावजूद उनका इकनॉमी रेट वाकई तारीफ के काबिल है.

इमरान ताहिर और रविंद्र जडेजा के साथ-साथ चावला भ्रामक गूगली और 120 किमी/घंटे की तेज गेंद से विपक्षियों के लिए बड़ा खतरा हो सकते हैं.

पिछले कुछ सालों में केकेआर के लिए खेलते हुए 30 साल का ये युवा एक स्मार्ट गेंदबाज बनकर उभरा है और चेन्नई भी इस साल उनसे वही करिश्मे की उम्मीद रख रही होगी.

टॉम बैंटन (कोलकाता नाइट राइडर्स)

कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ काफी समस्या हैं, जब उनके टॉप ऑर्डर की बात आती है तो शुभमन गिल, सुनील नरेन और टॉम बैंटन सभी ओपनर के कड़े दावेदार हैं. 21 साल का इंग्लिश क्रिकेटर टॉम बैंटन आने वाला बड़ा स्टार के तौर पर देखा जा रहा है. और आगामी इंडियन लीग में अपने बल्ले से विरोधी खेमे का काफी नुकसान कर सकता है.

उसके पास काफी नए शॉट्स हैं. बैंटन पहले ही बिग बैश लीग और पाकिस्तान सुपर लीग में अपना जौहर दिख चुके हैं और इस बार आईपीएल में डेब्यू करके प्रभावित करने के लिए उत्सुक होंगे.

ये युवा क्रिकेटर बीते साल वैटालिटी ब्लास्ट में अपनी परफॉर्मेंस से नजरों में आया था. वहां उसने 161.8 के स्ट्राइक रेट और 40.58 की औसत से 487 रन बनाए थे. 40 टी20 मैच में उसने एक शतक और आठ अर्धशतक लगाए हैं. उसका स्ट्राइक रेट 154 का रहा है. अगर उसे सही मौका दिया जाता है तो वह केकेआर के लिए मैच विनर हो सकता है.

यशस्वी जायसवाल (राजस्थान रॉयल्स)

इस साल की शुरुआत में साउथ अफ्रीका में हुए आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप में यशस्वी 400 रन के साथ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले क्रिकेटर थे. और अब आईपीएल 2020 में सबसे ज्यादा चर्चित खिलाड़ियों में से एक हैं.

लीग में अपनी टीम के बिग-हिटर जोस बटलर के साथ उनके ओपनिंग करने की उम्मीद है. ये युवा क्रिकेटर अपनी तकनीक और शॉट्स से सीजन में आग लगा सकता है. जायसवाल घरेलू क्रिकेट में पहले ही ऐसा कर चुके हैं, विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड के विरुद्ध उनके नाम दोहरा शतक है, इसमें उन्हें झारखंड के शाहबाज नदीम और वरुण आरोन जैसे बॉलर्स का सामना करना पड़ा था.

लिस्ट ए क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाला सबसे युवा प्लेयर एक लेग स्पिनर भी है. रॉयल्स को दूसरा आईपीएल खिताब दिलवाने में वह ट्रंप कार्ड बन सकता है.

नाथन कुल्टर नाइल (मुंबई इंडियंस)

IPL 2020: चावला से बैंटन तक 8 खिलाड़ी जो कर सकते हैं बड़ा धमाल
(फोटो: Facebook/Mumbai Indians)

लसिथ मलिंगा निजी कारणों से आईपीएल सीजन से बाहर हो चुके हैं. अब उनकी गैरमौजूदगी में फास्ट बॉलिंग की जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह और नाथन कुल्टर नाइल पर आ जाएगी. काबिलियत में कम आंके जाने वाले गेंदबाज कुल्टर नाइल ने टी20 के 120 मैच खेले हैं और 140 विकेट लिए हैं. उनका इकनॉमी रेट 7.76 है. एक तथ्य ये भी है कि इस ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर का टी20 में स्ट्राइक रेट 18 का है. यानी वह प्रत्येक मैच में अक्सर विकेट लेता है.

कुल्टर नाइल निचले क्रम में बल्लेबाजी करने में भी माहिर हैं. उनका हाई स्कोर 42 नॉटआउट है, जबकि उनकी बॉलिंग स्पीड 130 किमी/घंटा है. ये तेज गेंदबाज आईपीएल 2017 में आखिरी बार खेला था. तब उन्होंने 14 विकेट लिए थे और उनका स्ट्राइक रेट 11 और औसत 15.2 का था.

(साराह वारिस इंग्लिश लिटरेचर में पोस्टग्रेजुएट हैं. उन्होंने क्रिकेट से जुड़ी अथाह जानकारी को चंद शब्दों में ढालने का मुश्किल काम किया है.)

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!