ADVERTISEMENT

विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ी तो धोनी ने उनसे क्या कहा? कोहली ने खुद बताया

Virat kohli ने कहा कि मैं घर आने के बाद उनकी बात से काफी प्रभावित हुआ था.

Published
विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ी तो धोनी ने उनसे क्या कहा? कोहली ने खुद बताया
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और महेंद्र सिंह धोनी (Dhoni) के बीच दोस्ती किसी से छिपी नहीं है. दोनो एक दूसरे का मुश्किल वक्त में कितना साथ देते हैं ये भी विराट कोहली समय-समय पर जाहिर करते हैं.

विराट कोहली मौजूदा टी 20 विश्व कप में तीन अर्धशतक लगा चुके हैं. हालांकि कोहली इस साल की शुरुआत में खराब दौर से गुजर रहे थे, जहां उनके लिए रन बनाना काफी मुश्किल था. इन्हीं सब के बीच इस साल जनवरी में विराट ने टेस्ट कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया था. एशिया कप में कोहली ने कहा था कि एमएस धोनी ही एकमात्र व्यक्ति थे जिन्होंने टेस्ट कप्तानी से पद छोड़ने पर उन्हें टेक्स्ट किया था.

ADVERTISEMENT

'सिर्फ धोनी ने टेक्सट किया'

अब, RCB पॉडकास्ट पर बोलते हुए, कोहली ने बताया कि उस खराब समय में धोनी ने उन्हें क्या टेक्स्ट किया और उस मैसेज का उनपर असर पड़ा. कोहली ने कहा कि

"एकमात्र व्यक्ति जो वास्तव में मेरे पास पहुंचे है वह एमएस धोनी है, और मेरे लिए ये आशीर्वाद है कि मेरा इतना मजबूत बंधन और किसी ऐसे व्यक्ति के साथ इतना मजबूत रिश्ता हो सकता है जो मुझसे इतना सीनियर हो. ये एक दोस्ती है जो आपसी सम्मान पर आधारित है."

उन्होंने मुझे कहा था कि जब आपसे मजबूत होने की उम्मीद की जाती है और एक मजबूत व्यक्ति के रूप में देखा जाता है, तो लोग ये पूछना भूल जाते हैं कि आप कैसे कर रहे हैं? मैं घर आने के बाद उनकी इस बात से काफी प्रभावित हुआ था.

ADVERTISEMENT

कोहली ने आगे कहा कि "मुझे हमेशा एक ऐसे व्यक्ति के रूप में देखा गया है जो बहुत आत्मविश्वासी है, बहुत मानसिक रूप से मजबूत है और किसी भी स्थिति और परिस्थिति को सहन कर सकता है और हमें रास्ता दिखा सकता है. कभी-कभी आप जो महसूस करते हैं वो ये है कि किसी भी बिंदु पर जीवन में आपको कुछ कदम पीछे हटना होगा और समझना होगा कि आप क्या-कैसे कर रहे हैं."

कोहली को अपना 71 वां अंतरराष्ट्रीय शतक लगाने के लिए लगभग तीन साल इंतजार करना पड़ा और उन्होंने एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ इसे हासिल किया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×