ADVERTISEMENT

Whatsapp ने मार्च में भारत के 18 लाख अकाउंट्स को बैन किया- रिपोर्ट

कंपनी के एक स्पोक्सपर्सन ने कहा कि व्हाट्सएप ने मार्च महीने में कुल 1.8 मिलियन से अधिक अकाउंट्स को बैन कर दिया है.

Published
Whatsapp ने मार्च में भारत के 18 लाख अकाउंट्स को बैन किया- रिपोर्ट
i

मैसेजिंग प्लेटफॉर्म द्वारा पब्लिश की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक मेटा (Meta) के स्वामित्व वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप (Whatsapp) ने यूजर्स द्वारा प्राप्त हुई शिकायतों के आधार पर मार्च में 18.05 लाख भारतीय अकाउंट्स पर बैन लगा दिया. रिपोर्ट के मुताबिक 1 से 31 मार्च, 2022 के बीच व्हाट्सएप द्वारा 18.05 लाख भारतीय अकाउंट्स को गलत तरह से उपयोग किए जा रही चीजों का पता लगाने के लिए बैन लगा दिया था, जिसमें यूजर्स के द्वारा निगेटिव फीडबैक पर आधारित कार्रवाई भी शामिल है.

ADVERTISEMENT

इस रिपोर्ट में यूजर की शिकायतों की डीटेल और व्हाट्सएप द्वारा की गई संबंधित कार्रवाई के साथ-साथ प्लेटफॉर्म का दुरुपयोग होने से निपटने के लिए व्हाट्सएप के खुद के एक्शन शामिल हैं.

कंपनी के एक स्पोक्सपर्सन ने कहा कि व्हाट्सएप ने मार्च महीने में कुल 1.8 मिलियन से अधिक अकाउंट्स को बैन कर दिया है.

बता दें कि इसके पहले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप ने फरवरी के दौरान 14.26 लाख भारतीय अकाउंट्स पर बैन लगा दिया था.

व्हाट्सएप के स्पोक्सपर्सन ने कहा कि कई सालों से, प्लेटफॉर्म ने लगातार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अन्य अत्याधुनिक टेकनिक, डेटा वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों, यूजर्स को सुरक्षित रखने के लिए निवेश किया है.

मार्च 2022 में 597 शिकायतों की रिपोर्ट प्राप्त हुई और 74 अकाउंट्स पर कार्रवाई की गई.

प्राप्त हुई रिपोर्ट्स में 407 'बैन अपील' से संबंधित थे, जबकि अन्य अकाउंट सपोर्ट, प्रोडक्ट सपोर्ट, और सेक्योरिटी सपोर्ट की कैटेगरी में थे.

रिपोर्ट में कहा गया है कि हम सभी प्रात हुई शिकायतों का जवाब देते हैं, उन मामलों को छोड़कर जहां किसी शिकायत को पिछले टिकट का डुप्लिकेट माना जाता है. अकाउंट पर तब 'कार्रवाई' की जाती है जब किसी बैन लगा दिया जाता है या कम्प्लेन के बाद पहले से बैन किए गए अकाउंट को बहाल किया जाता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×