BJP MLA ने हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस को भी दे दिया मजहबी रंग

BJP MLA ने हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस को भी दे दिया मजहबी रंग

न्यूज वीडियो

वीडियो एडिटर: मोहम्मद इरशाद आलम

हैदराबाद में 26 साल की महिला डॉक्टर से रेप और उसकी हत्या ने पूरे देश को दहला दिया है. हैरानी की बात ये है कि एक बीजेपी एमएलए और पार्टी के कुछ समर्थकों ने इस वीभत्‍स कांड को भी सियासी रंग देने की कोशिश की. ये सब तब हो रहा था, जब महिला डॉक्टर का परिवार सदमे में सिसक रहा था.

Loading...

शुक्रवार को पुलिस ने इस वारदात के 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया. इनके नाम हैं- मोहम्मद आरि‍फ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंता चेन्नाकेशवुलू. ये सभी तेलंगाना के नारायणपेट जिले के रहने वाले हैं.

इससे पहले कि आरोपियों के नाम उजागर होते. इस जघन्य गैंगरेप और हत्याकांड का सियासी फायदा उठाने के लिए लोगों ने इसे सांप्रदायिक रंग देना शुरू कर दिया. इन लोगों ने न तो हैदराबाद पुलिस के बयानों को देखने की जरूरत समझी, न ही पीड़िता के परिवार के दुख की परवाह की.

तेलंगाना से बीजेपी MLA राजा सिंह ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने चार में से एक आरोपी का मजहब बताया. लेकिन उन्होंने बाकी तीन आरोपियों के धर्म का जिक्र तक नहीं किया.

(फोट: ट्विटर ग्रैब)

शमशाबाद जोन के डीसीपी एन प्रकाश रेड्डी का कहना है :

इस मामले के आरोपी अलग-अलग धर्मों के हैं. इसलिए ऐसा कहना गलत है कि इस हत्याकांड का किसी धर्म से कोई संबंध है. हम उन लोगों के खिलाफ एक्शन लेंगे, जो इसे सांप्रदायिक रंग दे रहे हैं. सभी आरोपियों को गिरफ्तार करेंगे और सजा देंगे.
एन प्रकाश रेड्डी, DCP, शमशाबाद जोन

सियासी रंग देने में सुदर्शन न्यूज के सुरेश चवहंके और आगे निकल गए.

(फोट: ट्विटर ग्रैब)
मैं पूछना चाहता हूं कि क्या मुस्लिम आरोपी की गिरफ्तारी को बैलेंस करने के लिए बाकी तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मैं गृह राज्यमंत्री जी कृष्ण रेड्डी से गुहार करूंगा कि वो इस मामले की जांच करवाएं.
सुरेश चवहंके, सुदर्शन न्यूज

ये भी पढ़ें : हैदराबाद रेप केस: आरोपी की मां बोली- मेरे बेटे को जिंदा जला दो

महेश हेगड़े नाम के शख्स ने एक ट्वीट किया और लिखा कि आरोपी बड़ा 'शांतिप्रिय' है. साफ तौर पर हेगड़े इस शब्द का इस्तेमाल मुसलमानों पर हमला बोलने के लिए कर रहे थे. उनका हमला इस्लाम को शांति का धर्म कहने वालों के खिलाफ था. इन्हीं महेश हेगड़े की साइट 'पोस्टकार्ड न्यूज' के फेसबुक पेज को 2018 में फेक न्यूज फैलाने के आरोप में डिलीट किया गया था.

(फोट: ट्विटर ग्रैब)
फेक न्यूज फैलने के ‘हिस्ट्रीशीटर’ प्रशांत पटेल और बीजेपी आईटी सेल के नेशनल इंचार्ज अमित मालवीय ने भी ट्वीट के जरिए हैदराबाद रेप कांड के चारों आरोपियों में से सिर्फ मुस्लिम आरोपी को निशाना बनाया.
(फोट: ट्विटर ग्रैब)
(फोट: ट्विटर ग्रैब)

सोशल मीडिया पर अच्छा रसूख रखने वाले इन लोगों के ट्वीट के कारण ही इस मामले को लेकर सिर्फ एक धर्म को निशाना बताते हुए हैशटैग ट्रेंड करने लगा.

(फोट: ट्विटर ग्रैब)
(फोट: ट्विटर ग्रैब)

इस तरह कुछ लोगों ने 26 साल की डॉक्टर के रेप-हत्या जैसे दहलाने वाले अपराध और उसके परिवार के दर्द को अपना सांप्रदायिक एजेंडा आगे बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया.

ये भी पढ़ें : हैदराबाद रेप केस: आरोपी की मां बोली- मेरे बेटे को जिंदा जला दो

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our न्यूज वीडियो section for more stories.

न्यूज वीडियो
    Loading...