कोरोनावायरस: ‘लक्षण भी नहीं दिखे, फिर भी मैं पॉजिटिव पाई गई’

कोरोनावायरस: ‘लक्षण भी नहीं दिखे, फिर भी मैं पॉजिटिव पाई गई’

न्यूज वीडियो

वीडियो एडिटर: अभिषेक शर्मा

देश में कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ रहा है, ऐसे में रूस से लौटीं महाराष्ट्र की *किरण (बदला हुआ नाम) ने कोरोनावायरस संक्रमण से लेकर ठीक होने तक की पूरी कहानी बताई.

Loading...

*किरण का कहना है कि उन्हें नहीं लगा था कि वो टेस्ट में पॉजिटिव पाई जाएंगी, उन्होंने कहा- 'नहीं लगा था कि मैं पॉजिटिव हूं वो बहुत डराने वाला पल था'.

किरण ने बताया कि जब वो रूस गईं और रूस से लौटीं तब भी उन्होंने एहतियात बरती, साफ- सफाई, सेनिटाइजर वगैरह का इस्तेमाल कर रही थीं. लेकिन जब वो अपने घर पहुंची तब उन्हें थोड़ी दिक्कत होने लगी, जुखाम हुआ उसके बाद उन्होंने एंटी-बायोटिक भी ली. लेकिन 6 दिन बाद उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी.

किरण आगे कहती हैं-

मैं अस्पताल आई, मुझे डॉक्टर ने कहा कि ‘आपको चेस्ट इंफेक्शन है’ उन्होंने रूस सुनते ही मुझे सस्पेक्ट लिस्ट में डाल दिया और मुझे अस्पताल में भर्ती होने के लिए कहा, जब मेरा टेस्ट हुआ तो डॉक्टर ने कहा कि’ आप रूस क्यों गई थीं, आप टेस्ट में पॉजिटिव हैं’ तो ये सुनकर मैं बहुत डर गई थी.

किरण का कहना है कि जब डॉक्टर ने कहा कि 'रूस क्यों गए थे?' तो उन्होंने जवाब दिया कि ये जरूरी नहीं कि ये रूस से हुआ हो, वो दिल्ली एयरपोर्ट पर 4 घंटे तक थीं उनका कहना है कि हो सकता है उन्हें एयरपोर्ट से संक्रमण हुआ हो.

'मुझे डर था कि मैंने किसी को संक्रमित तो नहीं किया?’

किरण का कहना है कि उन्हें डर था कि उन्होंने किसी और को तो संक्रमित नहीं कर दिया, वो बताती है कि उन्हें बहुत घबराहट हुई ये सब कुछ सोच कर. लेकिन जब वो पॉजिटिव टेस्ट हुई थीं उसके बाद उन्हें अस्पताल में रखा गया और उस दौरान उन्हें बताया गया कि उन्होंने किसी को संक्रमित नहीं किया है तो उन्हें शांति मिली, साथ ही डॉक्टर्स ने उन्हें ये भी जानकारी दी कि दूसरे टेस्ट में वो नेगेटिव पाई गई हैं तो उन्होंने भगवन का शुक्रिया किया और कहा कि अस्पताल ने उनका काफी अच्छे से ध्यान रखा है.

किरण बताती है कि उनके देखभाल के लिए नर्स और डॉक्टर थे. जिन्होंने काफी अच्छे से ध्यान रखा और उन्हें हिम्मत दी ताकि वो इससे लड़ सकें. उन्होंने पूरे अस्पताल और मेडिकल स्टाफ का धन्यवाद किया.

किरण महाराष्ट्र के औरगाबाद की हैं और उन्होंने रूस से आने के बाद औरंगाबाद में ही अपना इलाज करवाया है. कोरोनावायरस का कहर देश में लगातार बढ़ते जा रहा है जिसमें महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं.

ये भी पढ़ें : COVID-19: देशभर में स्वास्थ्यकर्मियों के सम्मान में बज रही तालियां

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our न्यूज वीडियो section for more stories.

न्यूज वीडियो
    Loading...