रेलटेल IPO: 16 फरवरी को आ रहा इशू, जानिए 10 बड़ी बातें

रेलटेल IPO का कुल इशू साइज 819 करोड़ रुपयों का है.

Published
RailTel IPO to launch on 16 February 2021
i

शेयर बाजार में तेजी के बीच एक और IPO की घोषणा हो गई है. IRFC के बाद भारतीय रेलवे से जुड़ी एक और कंपनी रेलटेल कॉर्पोरेशन अब अपने पब्लिक इशू के साथ आ रही है. IRFC, इंडिगो पेंट्स, होम फर्स्ट फाइनेंस कंपनी, स्टोव क्राफ्ट और ब्रूकफील्ड REIT के बाद यह 2021 का छठा IPO होगा. आइए 10 प्वॉइंट्स में जानते हैं इस इशू से जुड़ी सारी अहम बातों को-

  • रेलटेल इनफार्मेशन और कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी (ICT) इंफ्रास्ट्रक्चर प्रदाता एक मिनीरत्न कंपनी है. कंपनी का स्वामित्व वर्तमान में पूरी तरह से केंद्र सरकार के पास है. 2000 में स्थापना के बाद से कंपनी लगातार ट्रेन से जुड़ी सेवाओं के लिए टेलीकॉम सिस्टम के आधुनिकीकरण का काम कर रही है. रेलवे ट्रैक्स पर अपने राइट ऑफ वे (RoW) का इस्तेमाल करके कंपनी ऑप्टिकल फाइबर केवल नेटवर्क बिछाने के काम में भी संलग्न है.
  • रेलटेल IPO 16 फरवरी को खुलकर 18 फरवरी तक निवेशकों के लिए उपलब्ध रहेगा. शेयरों के आवंटन के 23 फरवरी तक होने की उम्मीद है, जिसके बाद NSE और BSE में स्टॉक की लिस्टिंग 26 फरवरी को हो सकती है.
  • रेलटेल आईपीओ (RailTel IPO) में सरकार कुल 8,71,53,369 करोड़ शेयर ऑफर फॉर सेल (OFS) के माध्यम से बेचेगी. अपर प्राइस बैंड पर रेलटेल IPO का कुल इशू साइज 819 करोड़ 24 लाख करोड़ रुपयों का है.
  • इस पब्लिक इशू में शेयरों की बिक्री के लिए ₹93-₹94 रूपये का प्राइस बैंड तय किया गया है. रिटेल निवेशक कम से 155 या उसके मल्टीपल में शेयरों के लिए अपनी रूचि दिखा सकते है. अपर प्राइस बैंड पर इस तरह एक लॉट के लिए इन्वेस्टर को कम से कम ₹14,570 निवेश करने होंगे.
  • रेलटेल IPO में 50% हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल खरीदारों, 35% रिटेल निवेशकों के लिए आरक्षित होगा जबकि बचे 15% शेयर नॉन इंस्टीट्यूशनल खरीदारों के लिए होंगे. कुल 5 लाख शेयर रेलटेल एम्प्लॉइज (employees) के लिए आरक्षित है.
  • वित्त वर्ष 2021 के सितम्बर छमाही के अंत में कंपनी की कुल आय 553 करोड़ जबकि नेट प्रॉफिट 45 करोड़ रही. कंपनी के अनुसार इसके बैलेंस शीट पर कोई भी डेब्ट (debt) नही है.
  • सरकार के OFS माध्यम से शेयरों की बिक्री के के कारण IPO से जुटाई गई राशि कंपनी के पास नही रहेगी. यह पब्लिक इशू सरकार की विनिवेश रणनीति का हिस्सा है.
  • एंकर निवेशकों के लिए यह IPO 15 फरवरी को खुलेगा.
  • IPO से पहले ग्रे मार्केट में रेलटेल के शेयर का प्रीमियम 40-45 रुपयों का है.
  • ICICI सिक्योरिटीज, IDBI कैपिटल मार्केट्स & सिक्योरिटीज तथा SBI कैपिटल मार्केट्स रेलटेल IPO के लिए लीड मैनेजर की भूमिका में है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!