सैफ ने माना,‘सेक्रेड गेम्स 2’ को नहीं मिली उतनी कामयाबी

सैफ ने माना,‘सेक्रेड गेम्स 2’ को नहीं मिली उतनी कामयाबी

एंटरटेनमेंट

बॉलीवुड एक्टर सैफ अली खान, आजकल अपनी आने वाली फिल्म 'लाल कप्तान' के प्रमोशन में बिजी हैं, अगस्त में सैफ की वेब सीरीज सेक्रेड गेम्स रिलीज हुई थी, जो लोगों को कुछ खास पसंद नहीं आई. सैफ ने क्विंट से खास बातचीत में माना कि 'सेक्रेड गेम्स' का दूसरा सीजन लोगों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया.

Loading...

पिछली बार जब हम मिले थे तो सेक्रेड गेम्स के सेट पर थे. कोई बॉक्स-ऑफिस कलेक्शन तो नहीं है, लेकिन एक धारणा है कि ‘सेक्रेड गेम्स 2’ को उतनी तारीफ नहीं मिली, जितनी पहले सीजन को मिली थी. क्या आपको भी उस तरह का कोई फीडबैक मिला है?

सैफ अली खान: पहला सीजन आउटस्टैंडिंग था, वो अब तक की सबसे अच्छी शो में से एक था और एमी के लिए भी नॉमिनेट हुआ था. दूसरे सीजन में थोड़ी गिरावट आई, मैं सोच रहा था कि इसे सेक्रेड गेम्स क्यों कहा जाता है और तब मुझे समझ आया कि इसलिए कहा जाता है क्यूंकि इसमें गुरूजी थे.

मैं मजाक कर रहा हूं. मुझे लगता है कि लोग उससे कनेक्ट नहीं कर पाए. मेरी समझ से लोगों को गायतोंडे का गंदा सा माफिया शो देखना था और उसकी लव स्टोरी में थोड़ा बहुत ट्विस्ट देखना चाहते थे और कश्यप- मोटवानी टाइप की कहानी. करण जौहर ने बिल्कुल एक चुड़ैल की तरह, मेरे साथ एक इंटरव्यू में कहा जब किसी ने नेटफ्लिक्स से पूछा कि ऐसी कोई बात आप बताना चाहते हैं, तो करण ने कहा, ‘दूसरे सीजन के अभिशाप से बचें, तो मैंने कहा ‘क्या कह रहे हो, हमारा दूसरा सीजन तो बढ़िया है‘, तो करण ने कहा, ‘अक्सर ऐसा नहीं होता‘, वो बिल्कुल सही थे. तो ये होता है.

मुझे नहीं पता क्यों,लेकिन दूसरा सीजन थोड़ा भूल भुलैया सा हो गया और मुझे पता नहीं कि क्लाइमेक्स कैसा था और कुछ चीजें थोड़ी बंध सी गयीं थीं. तो उस वजह से थोड़ा सा निराशाजनक रहा, लेकिन आपको उनसे पूछना चाहिए कि क्यों ऐसा हुआ. शायद उनके लिए बहुत ज्यादा हो गया था और इतना सारा उनको करना था, लेकिन फिर भी पहला सीजन तो बहुत अच्छा था, तो मुझे लगता है कि सब कुछ मिलाकर सब बढ़िया रहा.

ये भी पढ़ें : सेक्रेड गेम्स में ‘कुक्कू’ को कास्ट करना काफी मुश्किल था: मोटवानी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our एंटरटेनमेंट section for more stories.

एंटरटेनमेंट
    Loading...