ADVERTISEMENTREMOVE AD

कुरुक्षेत्र में पुराने ड्राइवर ने किया कारोबारी को अगवा, पुलिस ने बचाया

बदमाशों ने अपहरण कर परिवार वाले से की थी 20 लाख रुपये की फिरौती की मांग

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

कुरुक्षेत्र (Kurukshetr) के गांव गजलाना से अगवा किए गए जरनैल सिंह को पुलिस ने नवाजपुर से छुड़ा लिया है. बदमाशों ने उसकी ही कार के डिग्गी में बंधक बनाया हुआ था. वहीं बदमाशों ने पीड़ित को पीटा, जिससे उसके चेहरे पर गंभीर चोट आ गई है. बताया जा रहा है कि बदमाशों ने अपहरण कर परिवार से 20 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी. हालांकि सीआइए कुरुक्षेत्र की टीम ने उसे मुक्त करा लिया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

कारोबारी जरनैल सिंह कुरूक्षेत्र के लाडवा के रहने वाले हैं. मंगलवार को उसका गजलाना गांव के पास से अपहरण कर लिया गया था. बदमाशों ने अपहरण करने के बाद बीच रास्ते में जरनैल सिंह की जमकर पिटाई भी की. इसके बाद बदमाशों ने जरनैल सिंह के भाई को फोन कर 20 लाख की फिरौती की मांग की और चार बजे तक का समय दिया.

बदमाशों ने कहा कि अगर पैसे नहीं दिए तो वह जरनैल सिंह को मौत के घाट उतार देंगे. इसके अलावा जरनैल सिंह के भाई के लड़के को भी मारने की धमकी दी.

0

लोकेशन ट्रेस कर पीड़िता तक पहुंचा पुलिस

परिवार वाले ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी. जिसके बाद पुलिस ने मोबाइल की लोकेशन के आधार पर बदमाशों तक पहुच गई. कुरूक्षेत्र पुलिस को जब पता चला कि जरनैल सिंह को बदमाशों ने यमुनानगर जिले में ले गए है तो उन्होंने यमुनानगर पुलिस की मदद से रास्ते में नाकेबंदी करवा दी. वहीं बदमाश जरनैल सिंह को लिंक रोड पर ले कर उत्तर प्रदेश की तरफ निकलने वाले थे. लेकिन वहां पुलिस का नाका देख बदमाशों ने गांव नवाजपुर में जरनैल सिंह को गाड़ी में छोड़ कर खेतों के रास्ते भाग निकले.

जब पुलिस को गांव नवाजपुर के पास जरनैल की कार मिली. जिसकी तलाशी ली गई तो पीछे डिग्गी में जरनैल सिंह को हाथ पैर बांधकर डाला हुआ था.

बदमाशों ने  अपहरण कर परिवार वाले से की थी 20 लाख रुपये की फिरौती की मांग

जरनैल सिंह को बदमाशों ने कार की डिग्गी में बांध रखा था.

फोटोः क्विंट

अचानक राहगीरों की नजर जब गाड़ी पर पड़ी तो उन्होंने जरनैल सिंह को बचाया, इस बीच पुलिस भी मौके पर पहुंच गई पुलिस ने गाड़ी की जांच करने के बाद पीड़ित को अपने कब्जे में ले लिया और उसके हालात को देखते हुए यमुनानगर के सिविल अस्पताल में लेकर पहुंच गए. वहीं पीड़ित का अभी इलाज चल रहा है.

ADVERTISEMENT

कुरुक्षेत्र जिला पुलिस की जांच में सामने आया कि जरनैल सिंह का अपहरण उसके ही पुराने ड्राइवर ने अपने साथियों के साथ मिलकर किया है. वह एक साल पहले उसके पास काम करता था और जिस नंबर से फिरौती मांगी गई वह नंबर भी उसी ड्राइवर का है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×