ADVERTISEMENT

आर्यन खान और जमानत के बीच आईं कौन-सी दलीलें? यहां जानिए

12 दिनों से जेल में बंद Aryan Khan के पास अब 20 अक्टूबर तक राहत पाने का कोई भी वैधानिक विकल्प मौजूद नहीं

Updated
भारत
3 min read
<div class="paragraphs"><p>आर्यन खान की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित </p></div>
i

मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी (Mumbai cruise drugs party) मामले में गिरफ्तार चल रहे बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) को आज भी कोर्ट से राहत नहीं मिली है. आर्यन खान समेत अरबाज मर्जेंट और धमेचा की जमानत याचिका पर सुनवाई कर रहे रहे मुंबई के एक सेशन कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया. कोर्ट अपना फैसला अब 20 अक्टूबर को सुनाएगी.

ADVERTISEMENT

सेशन कोर्ट द्वारा अपना फैसला सुरक्षित रखने का मतलब है कि 12 दिनों से जेल में बंद आर्यन खान के पास अब 20 अक्टूबर तक राहत पाने का कोई भी वैधानिक विकल्प मौजूद नहीं है.

गौरतलब है कि सेशन कोर्ट के सामने यह जमानत याचिका बुधवार, 13 अक्टूबर को आई थी लेकिन NCB के वकील ASG अनिल सिंह बुधवार को अपनी दलील खत्म नहीं कर सके. इसके बाद कोर्ट ने आज गुरुवार, 14 अक्टूबर को फिर से सुनवाई शुरू की.

आज NCB के वकील ASG अनिल सिंह सुनवाई के लिए निर्धारित समय से 1 घंटे से भी ज्यादा लेट पहुंचे, जिसके कारण सुनवाई देर से शुरू हुई.

महात्मा गांधी की भूमि में ड्रग्स का दुरुपयोग नौजवानों को प्रभावित कर रहा- NCB

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ओर से उसके वकील ASG अनिल सिंह ने कोर्ट को बताया कि आर्यन खान रेगुलर ड्रग्स लेता है. उन्होंने कोर्ट में इसका दावा करने के लिए ऑन-रिकॉर्ड बयानों का हवाला दिया. आर्यन खान के व्हाट्सएप चैट का जिक्र करते हुए NCB ने कहा कि वह रेगुलर ड्रग्स लेता है और अरबाज मर्चेंट के पास से बरामद 6 ग्राम चरस उनके उपभोग के लिए था.

अनिल सिंह ने कहा कि वह आर्यन खान के वकील अमित देसाई के इस तर्क से सहमत नहीं हैं कि ये छोटे बच्चे हैं और इसलिए जमानत मिलना चाहिए.

"मैं असहमत हूं. यह हमारी भावी पीढ़ी है. पूरा देश उन पर निर्भर होगा. महात्मा गांधी की भूमि में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने इसकी कल्पना नहीं की थी… ड्रग्स का दुरुपयोग नौजवानों को प्रभावित कर रहा है."
ASG अनिल सिंह

जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान ASG अनिल सिंह ने आगे तर्क दिया कि "दोषी साबित होने तक निर्दोष" होने का कॉन्सेप्ट एनडीपीएस अपराधों (ड्रग्स से जुड़े) के मामलों में लागू नहीं होता है. उन्होंने रिया चक्रवर्ती के भाई के जमानत आदेश का भी उल्लेख किया. ASG अनिल सिंह ने कहा कि रिया चक्रवर्ती के मामले में उसके भाई के पास से ड्रग्स की कोई रिकवरी नहीं हुई थी, लेकिन वर्तमान केस में ऐसा हुआ है.

ADVERTISEMENT

रेव पार्टी के बारे में मोबाइल पर कोई मैसेज या बातचीत नहीं है- आर्यन खान के वकील

जवाब में आर्यन खान की तरफ से दलील देते हुए वरिष्ठ वकील अमित देसाई ने कहा कि एजेंसी जिस व्हाट्सएप चैट पर बहुत अधिक भरोसा कर रही है, वह आज के नौजवानों की भाषा देखते हुए संदिग्ध लगती है.

“चैट की बातचीत को अक्सर गलत समझा जा सकता है. व्हाट्सएप चैट को निजी बातचीत माना जाता है. लेकिन मुझे बताया गया है कि रेव पार्टी के बारे में मोबाइल पर कोई मैसेज या बातचीत नहीं है… इस बात की संभावना हमेशा बनी रहती है कि व्हाट्सएप पर दोस्तों के बीच कैजुअल बातचीत संदिग्ध लग सकती है”.
अमित देसाई

आर्यन खान के वकील अमित देसाई ने कोर्ट के सामने नौजवानों पर ड्रग्स के खतरों को स्वीकार किया, लेकिन साथ ही जोर देकर कहा कि "जो भी कार्रवाई हो वह कानून के दायरे में होनी चाहिए"

“..यह याद रखना बहुत महत्वपूर्ण है कि हमने स्वतंत्रता के लिए लड़ाई लड़ी, हमने संविधान के लिए लड़ाई लड़ी, लोगों की स्वतंत्रता और उनके अधिकारों को बनाए रखने के लिए लड़ी. हम अधिकारों की अनदेखी नहीं कर सकते और कानून के बिना कार्रवाई नहीं कर सकते."
अमित देसाई

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT