वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर- जानवरों पर COVAXIN का ट्रायल कामयाब

देसी वैक्सीन ने जानवरों में पैदा की वायरस से लड़ने के लिए एंटीबॉडी

Published
भारत
2 min read
देसी वैक्सीन ने जानवरों में पैदा की वायरस से लड़ने के लिए एंटीबॉडी
i

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं, भारत में हालात कुछ ऐसे हो चुके हैं कि अब एक दिन में एक लाख के करीब नए मामले सामने आ रहे हैं. लेकिन इसी बीच भारत की स्वदेशी वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर सामने आई है. देसी वैक्सीन- COVAXIN का जानवरों पर किया गया ट्रायल कामयाब हुआ है. यानी इस देसी वैक्सीन ने जानवरों पर अपना असर दिखाया और उनमें वायरस से लड़ने के लिए एंटीबॉडी तैयार की.

भारत बायोटेक और आईसीएमआर की तरफ से तैयार की जा रही इस वैक्सीन का बंदरों पर ट्रायल किया गया था, जिसके अब नतीजे सामने आए हैं. भारत बायोटेक की तरफ से ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी गई. जिसमें कहा गया कि जानवरों पर किए गए ट्रायल की सफलता के बारे में बताते हुए हमें काफी खुशी हो रही है.

Covaxin के ह्यूमन ट्रायल के पहले और दूसरे फेज के लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने दिल्ली स्थित एम्स समेत 12 संस्थानों का चयन किया है. हाल ही में भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने इसके ह्यूमन क्लिनिकल ट्रायल की मंजूरी दी थी.

ट्रायल को लेकर ICMR ने दी थी जानकारी

इससे पहले भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के डीजी बलराम भार्गव ने कहा था कि तेजी से इस वैक्सीन के ट्रायल पर काम चल रहा है और उन्होंने इसकी डेडलाइन 15 अगस्त बता दी थी. उन्होंने कहा था कि 15 अगस्त तक ट्रायल के नतीजे सामने आ जाएंगे. लेकिन इस जल्दबाजी को लेकर कई बड़े साइंटिस्ट्स ने आपत्ति जताई थी. जिसके बाद आईसीएमआर की तरफ से सफाई देते हुए कहा गया कि, 'हमारी कोरोना की वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया दुनियाभर में चलने वाले मानकों के मुताबिक है.'

साथ ही उन्होंने बताया था कि ह्यूमन ट्रायल और जानवरों पर ट्रायल एक साथ किया जा रहा है. आईसीएमआर ने कहा था कि 15 अगस्त की तारीख सिर्फ ट्रायल के नतीजे आने का अनुमान था, लोगों के लिए वैक्सीन आने में अभी वक्त लग सकता है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!