#Metoo: यौन शोषण की शिकार पत्रकारों को मुंबई प्रेस क्लब का सपोर्ट
मुंबई प्रेस क्लब ने महिला पत्रकारों के साथ हुए यौन उत्पीड़न और बदसलूकी के मुद्दे को लेकर बयान जारी किया है
मुंबई प्रेस क्लब ने महिला पत्रकारों के साथ हुए यौन उत्पीड़न और बदसलूकी के मुद्दे को लेकर बयान जारी किया है(फोटो: istock)

#Metoo: यौन शोषण की शिकार पत्रकारों को मुंबई प्रेस क्लब का सपोर्ट

मुंबई प्रेस क्लब ने शनिवार के एक बयान जारी किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि यौन उत्पीड़न का शिकार हुई सभी महिला पत्रकारों के साथ वो खड़े हैं. शनिवार रात को प्रेस क्लब ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पूरा बयान ट्वीट किया.

Loading...

बयान में लिखा गया है कि , “मुंबई प्रेस क्लब उन सभी महिला पत्रकारों के साथ खड़ा है जिन्होंने अपने साथ काम करने वाले लोगों या फिर बड़ी हस्तियों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. पिछले दो दिनों में कई महिला साथियों ने मीडिया में खुद के साथ हुई बदसलूकी के बारे में बताया है, खासकर सोशल मीडिया पर कई महिलाओं ने लिखा है. हम महिला साथियों के साथ हुए इस तरह के व्यवहार की भर्त्सना करते हैं और मीडिया ग्रुप्स के मालिकों और प्रशासन से सख्त कार्रवाई की मांग करते हैं(अगर मामले को पुलिस या किसी और एजेंसी के सामने रखा गया है तो”

बयान में ये भी लिखा गया है कि प्रेस क्लब चाहता है कि ऐसे मुद्दे पर एक अच्छी बहस की जरूरत है और कोई पुख्ता समाधान ढूंढा जाना चाहिए.

“हम ऐसे एक इवेंट का आयोजन करने के बारे में सोच रहे हैं. तारीख का जल्द ही ऐलान होगा. हम चाहते हैं कि हमारे सदस्य हमें जरूरी सुझाव भेजें.”

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर #MetooIndia नाम से एक कैपेंन तेजी से चल रहा है. जिसमें कई महिला पत्रकारों, एक्ट्रेस और दूसरे व्यवसाय से जुड़ी महिलाएं खुद के साथ हुए यौन उत्पीड़न और बदसलूकी के बारे में खुलकर बात कर रही हैं.

ये भी पढ़ें : संडे व्यू: #Metoo #Metoo हुआ देश, राफेल पर रक्षामंत्री से सवाल

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

    Loading...