पीएम मोदी की अगुआई में डैमेज कंट्रोल में उतरी बीजेपी

कठुआ और उन्नाव: मामले में बीजेपी की काफी बदनामी हुई और अब इससे निकलने की कोशिश हो रही है

Updated
भारत
3 min read
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेप कांड पर चुप्पी तोड़ी
i

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आखिरकार कठुआ और उन्नाव रेप कांड पर मोर्चा संभाला. चार दिन से चौतरफा आलोचना झेलने के बाद पीएम मोदी ने कह दिया हम शर्मसार हैं, इन घटनाओं ने मानवीय झकझोर दिया है. लेकिन बीजेपी का डैमेज कंट्रोल करने वाले पीएम अकेले नहीं थे. सुबह से ही पार्टी ने इसकी कोशिश शुरू कर दी थीं.

सुबह से सीएम योगी सामने आए, फिर गृहमंत्री राजनाथ सिंह आए, बीजेपी के प्रवक्ताओं ने कठुआ और उन्नाव की धीरे धीरे निंदा शुरू की. सीबीआई तड़के ही हरकत में आ गई. सुबह साढ़े चार बजे उन्नाव के विधायक कुलदीप सेंगर को गिरफ्तार कर लिया गया. फिर माखी थाने के 6 पुलिसवालों को हिरासत में ले लिया.

खबर है कि कठुआ मामले में चार्जशीट के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले दो मंत्रियों लाल सिंह और चंद्रप्रकाश गंगा ने बीजेपी अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया है.

ये भी पढ़ें- कठुआ-उन्नाव केस पर पीएम ने तोड़ी चुप्पी, कहा-हम हैं शर्मसार

डैमेज कंट्रोल के कदम

  • गृह मंत्री बोले, बीजेपी के नेता कठुआ में जाकर माहौल संभालेंगे
  • जम्मू-कश्मीर के बीजेपी प्रभारी राम माधव राज्य का दौरा करेंगे
  • उन्नाव मामले पर योगी बोले, दोषी कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा
  • उन्नाव रेप के आरोपी विधायक को सीबीआई ने गिरफ्तार किया
  • सीबीआई ने एक इंस्पेक्टर समेत छह और लोगों को गिरफ्तार किया
  • कठुआ मामले में जिम्मेदार बीजेपी मंत्रियों की सफाई और इस्तीफे की पेशकश

पीेएम मोदी ने कहा दोषियों को छोड़ेंगे नहीं

  • पिछले दो दिन से जो घटनाएं चर्चा में हैं सभ्य समाज के लिए शर्मनाक है
  • देश के निर्माताओं के सामने सिर झुक गया है.
  • हम शर्मसार हैं, मानवीय संवेदनाओं को झकझोरना चाहती है
  • कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा,
  • उन बेटियों को न्याय मिलकर रहेगा, हम सबको मिलकर ठीक करना होगा
  • गुनहगारों को सख्त से सख्त सजा मिले, भारत सरकार कोई कोताही नहीं छोड़ेगी

कठुआ और उन्नाव रेप दोनों मामलों में बीजेपी मुश्किल में थी. उन्नाव में बीजेपी विधायक ही बलात्कार और हत्या का आरोपी था जबकि कठुआ में बीजेपी के नेता बलात्कार आरोपियों के पक्ष में आंदोलन करने में सामने आ गए थे.

बीजेपी मीडिया, सोशल मीडिया और राजनीतिक आरोपों में घिर गई थी. कांग्रेस के आधीरात के कैंडल मार्च ने बीजेपी को पूरी तरह बैकफुट पर ला दिया.

ये भी पढ़ें- कठुआ और उन्नाव रेप केस पर ये है प्रधानमंत्री मोदी का बयान

राजनाथ की पहल

राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने बीजेपी के नेताओं से कहा है कि वे कठुआ जाकर हालात संभालने की पहल करें. बीजेपी के महासचिव और जम्मू-कश्मीर के पार्टी प्रभारी राम माधव ने भी कहा है कि कठुआ कांड का संप्रदायीकरण नहीं होना चाहिए. खुद राजनाथ ने कहा कि राम माधव से उन्होंने बात की है. संभव है माधव खुद जम्मू-कश्मीर जाएं.

सीबीआई का एक्शन

उन्नाव कांड में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को सीबीआई ने सुबह सुबह गिरफ्तार किया. इसके बार सीबीआई ने पूरे थाने को ही हिरासत में ले लिया. योगी ने ऐलान किया कि किसी को छोड़ेंगे नहीं.

उन्नाव कांड के सामने आने के एक सप्ताह बाद हुई विधायक  की गिरफ्तारी 
उन्नाव कांड के सामने आने के एक सप्ताह बाद हुई विधायक  की गिरफ्तारी 
फोटो - क्विंट हिंदी 

सांप्रदायिक ध्रुवीकरण से भड़का गुस्सा

कठुआ में रेप के एक मामले को लेकर जिस तरह के सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिश हुई और बीजेपी के नेताओं ने माहौल को हवा दी, उससे पार्टी की खूब किरकिरी हुई और प्रधानमंत्री के बेटी बचाओ के नारों को भी भरपूर मजाक उड़ा. सोशल मीडिया पर पीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी से महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल पूछे गए.

यह भी पढ़ें - कठुआ रेप केस ने मुझे जम्मू से होने पर शर्मसार कर दिया

राहुल गांधी ने ट्वीट कर पीएम से पूछे सवाल

बीजेपी का इस तरह बैकफुट और बचाव की मुद्रा में आना अपने आप में अनोखा है. हैरानी की बात है कि बीजेपी दोनों मामलों में लोगों के गुस्से को भांप नहीं पाई और उसने एक्शन लेने में देरी कर दी. प्रधानमंत्री ने महिलाओं के खिलाफ अपराध करने वालों को चेतावनी जरूर दी, पर जिस तरह से एक्शन लेने में ढिलाई की गई उसने विपक्ष को सरकार की कथनी और करनी पर सवाल उठाने का मौका बहुत जोर से मिल गया है.

ये भी देखें - उन्नाव VIDEO: योगीजी, कानून का दिखावा मत करिए, इंसाफ दिलाइए

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!