ADVERTISEMENTREMOVE AD

सोनिया गांधी का कोटा के अंदर कोटा की मांग, कहा- महिला बिल का समर्थन, राजीव का सपना पूरा होगा

"मैं सरकार से जानना चाहती हूं कि महिलाओं को इसके लिए कितना लंबा इंतजार करना होगा": सोनिया गांधी

Published
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

ससंद के विशेष सत्र के तीसरे दिन कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महिला आरक्षण बिल पर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस की तरफ से 'नारी शक्ति वंदन अधिनियम 2023' के समर्थन में खड़ी हूं. उन्होंने OBC महिलाओं के लिए आरक्षण की मांग की और कहा कि मैं सरकार से जानना चाहती हूं कि महिलाओं को इसके लिए कितना लंबा इंतजार करना होगा, ये राजीव गांधी का सपना था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
"धुएं से भरी हुई रसोई से लेकर रौशनी से जगमगाते स्टेडियम तक भारत की स्त्री का सफर बहुत लंबा है. लेकिन, आखिरकार उसने मंजिल को छू लिया है. उसने जन्म दिया उसने परिवार चलाया, उसने पुरुषों के बीच तेज दौड़ लगाई और असीम धीरज के साथ अक्सर खुद को हारते हुए, लेकिन आखिरी बाजी में जीते हुए देखा."
सोनिया गांधी

उन्होंने आगे कहा कि भारत की स्त्री के हृदय में सागर सा धीरज है उसने अपने साथ हुई बेइमानी की शिकायत नहीं की. वो हिमायल की तरह अदृतीय रही, वो आराम को नहीं पहचानती और थक जाना भी नहीं जानती. स्त्री ने हमें सिर्फ जन्म नहीं दिया उसने हमें सोचने लायक और शक्तिशाली बनाया है. हम स्त्री के त्याग को पहचान कर ही मनुष्य होने को सफल बना सकते है.”

महिला आरक्षण बिल राजीव गांधी का सपना थाः सोनिया गांधी

उन्होंने स्त्री त्याग पर बात करते हुए कहा कि "वो घर-गृहस्थी के तले नहीं दबी और आजादी की लड़ाई लड़ी. सरोजनी नायडू से लेकर अरुणा आसफ अली तक महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू और आंबेडकर के सपने को हकीकत बनाया. इंदिरा गांधी का योगदान इसमें बेहद महत्वपूर्ण रहा.

"ये मेरे लिए मार्मिक क्षण है, मेरे जीवनसाथी राजीव गांधी का ये सपना था, उन्होंने निकाय चुनाव में महिलाओं की भागीदारी के लिए बिल लाया और पास कराया. आज हमारे पास 15 लाख निकाय चुनाव में चुनी गई महिलाएं हैं, ये राजीव गांधी का सपना था जो अधूरा ही रहा. कांग्रेस इस बिल के समर्थन में हैं, सालों से महिलाएं अपने हक़ के लिए इंतजार कर रही हैं लेकिन अब उनसे और भी इंतज़ार करने को कहा जा रहा है. दो साल -चार साल- पांच साल? कितान लंबा होगा ये इंतजार.”

OBC महिला आरक्षण पर क्या बोलीं सोनिया गांधी?

OBC महिलाओं को आरक्षण दिए जाने को लेकर सोनिया गांधी ने कहा कि “जनगणना करा कर पिछड़े तबके से आने वाली महिलाओं को आरक्षण मिलना ही चाहिए. महिलाओं के प्रति आभार प्रकट करने का ये सबसे अहम समय है. मैं सरकार से मांग करती हूं कि नारी शक्ति वंदन अधिनियम की सारी दिक्कतें दूर कर इसे जल्द से जल्द लागू किया जाए.”

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×