MP: मजदूरों को घर ले जा रहा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, 5 की मौत,11 घायल

मृत और घायल सभी मजदूरों का कोरोना सैंपल भी लिया गया है, क्योंकि इनमें से एक को खांसी थी

Published
भारत
2 min read
मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर में हुआ बड़ा ट्रक हादसा, पांच मजदूरों की मौत
i

मध्यप्रदेश के नरसिहंपुर में प्रवासी मजदूरों को ले जा रहा एक ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें पांच मजदूरों की जान चली गई. वहीं 11 लोग घायल हो गए. यह मजदूर तेलंगाना के हैदराबाद से उत्तरप्रदेश जा रहे थे. ट्रक में आम भी भरे हुए थे.

नरसिंहपुर के कलेक्टर दीपक सक्सेना ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया, ''ट्रक में आम लदे हुए थे. यह हैदराबाद से आगरा जा रहा था. कुल मिलाकर ट्रक में 18 लोग बैठे हुए थे. घटना में इनमें से 5 लोगों की मौत हो गई.''

नईदुनिया अखबार के मुताबिक मजदूर ट्रक की छत पर बैठे हुए थे. घटना के बाद चालक और क्लीनर ट्रक छोड़कर फरार हो गए.

11 घायलों में से दो को जबलपुर रेफर किया गया, इनमें से एक के सिर पर चोट आई थी, वहीं दूसरे को गंभीर फ्रैक्चर हुए थे. दूसरे दो मजदूरों की हालत भी गंभीर बनी हुई है. वहीं 7 लोगों की हालत स्थिर है.

कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लिया गया

सिविल सर्जन डॉक्टर अनीता अग्रवाल ने बताया कि मजदूरों में से एक को खांसी थी. इसलिए सबका सैंपल इकट्ठा करने का फैसला किया गया. मृत लोगों के भी सैंपल लिए गए हैं.

बता दें नरसिंहपुर जिले में अब तक एक भी कोरोना का केस सामने नहीं आया है. मध्यप्रदेश के 52 जिलों में से 39 जिलों में कोरोना संक्रमण फैल चुका है.

औरंगाबाद में 16 मजदूरों की जान गई थी

16 प्रवासी मजदूरों पर 8 मई का दिन कहर बनकर टूटा. महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में 16 मजदूर एक मालगाड़ी की चपेट में आ गए. इनमें से 14 की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं, दो मजदूरों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. सभी मजदूर मध्यप्रदेश के रहने वाले थे. ये हादसा ऐसे समय में हुआ है, जब पूरे देश से प्रवासी मजदूरों के पैदल घर जाने की खबरें सामने आ रही हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मारे गए मजदूर रेल ट्रैक पर सो गए थे. चलते-चलते थकान होने की वजह से ये मजदूर रेल की पटरियों पर ही सो गए थे. एक पुलिस अधिकारी ने PTI को बताया कि मजदूर भुसावल से जालना की तरफ जा रहे थे और मध्य प्रदेश वापस लौट रहे थे.

पढ़ें ये भी: कोविड-19: ICMR की मदद से भारत बॉयोटेक बना रही देसी वैक्सीन

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!