ADVERTISEMENTREMOVE AD

वाराणसी में एक परिवार के 3 लोगों का शव बेड पर पड़ा मिला, मुंह से निकल रहा था झाग

Varanasi News : पुलिस को आशंका है कि जहर खाकर तीनों ने आत्महत्या की है.

Published
भारत
2 min read
story-hero-img
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दशाश्वमेध थाना क्षेत्र के खालीसपुरा के किराए के मकान में तीन लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई. डीसीपी आर. एस. गौतम ने बताया जांच में पता चला कि सभी ने खाने में विषाक्त पदार्थ मिलाकर खाया था, जिससे इनकी मौत हो गई.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

फिलहाल, वाराणसी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मौके पर पहुंचे डीसीपी आर. एस. गौतम ने बताया कि...

"मूल रूप से गाजीपुर के रहने वाले एक ही परिवार के तीन लोगों का शव मिला है. यह परिवार गंगा घाटों पर चाय बेचकर अपनी आजीविका चलाता था. मौके पर जांच में पता चला कि सभी ने खाने में विषाक्त पदार्थ मिलाकर खाया था, जिससे इनकी मौत हो गई."
आर. एस. गौतम, DCP काशी

परिजनों की मानें तो आए दिन घर में आपसी विवाद होता रहता था. गुरुवार की सुबह मृतक का छोटा बेटा कमरे में सभी को जगाने के लिए गया तो कमरे का दरवाजा नहीं खुला. ऐसे में अनहोनी की आशंका होने से छोटे बेटे ने मकान मालिक और अन्य लोगों को मौके पर बुलाया. कमरे की खिड़की तोड़कर लोगों ने देखा तो बेड पर तीनों का शव पड़ा हुआ था.

स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया. पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान पिता जनार्दन 70 वर्ष, पुत्र अश्वनी 27 वर्ष और भांजे दीपू 8 वर्ष के रूप में हुई. फिलहाल, पुलिस इस पूरे मामले को लेकर जांच में जुटी हुई है.
0

DCP काशी आर. एस गौतम ने बताया कि "जर्नादन मूल रूप से गाजीपुर जिले का रहने वाला है. वह लोग यहां किराए पर लाल जी साहनी के मकान में रहते थे."

"हमें कमरे में एक थाली मिली है. इसमें बचा हुआ भोजन है. देखकर ऐसा लगता है कि तीनों ने इसी थाली में खाना खाया है. इस थाली के आस-पास जमीन पर कुछ कण मिले हैं. जोकि, फोरेंसिक टीम के मुताबिक, सल्फास के हो सकते हैं. उन्हें जांच के लिए भेजा गया है. इनके परिवार के लोगों को गाजीपुर से बुलाया गया है."
आर. एस. गौतम, DCP काशी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×