सुशांत केस की CBI जांच पर नीतीश बोले-भरोसा रखें, न्याय होगा

सुशांत सिंह राजपूत केस में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच की मंजूरी दे दी है

Updated
सुशांत केस की CBI जांच पर नीतीश बोले-भरोसा रखें, न्याय होगा

सुशांत सिंह राजपूत केस में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच की मंजूरी देने के बाद तमाम नेताओं के भी रिएक्शन सामने आ रहे हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोर्ट के इस फैसले के बाद कहा-

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साफ होता है कि बिहार पुलिस की जांच और यहां दर्ज की गई FIR सही थी. सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत का परिवार या बिहार के लोग ही नहीं, पूरा देश इस मामले को लेकर चिंतित है, सीबीआई जांच के साथ, लोग भरोसा कर सकते हैं कि न्याय होगा.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर कहा- ‘ पूरे देश की पुकार थी कि न्याय मिलना चाहिए. आज मुझे इस बात का संतोष है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आलोक में अब एक ईमानदार जांच होगी और जो भी दोषी हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी.

बीजेपी नेता और अभिनेता रवि किशन ने कोर्ट के इस फैसले पर कहा है -सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया की उसने ऐसा फैसला लिया, इससे न्यायपालिका पर पूरे देश का विश्वास और पुख्ता हो गया. अब कम से कम ये साफ हो जाएगा कि ये मौत है, आत्महत्या है या फिर हत्या.

तेजस्वी ने भी फैसला का किया स्वागत

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि ये न्याय की जीत है. हमने 30 जून को ही सीबीआई जांच की मांग की थी. लेकिन बिहार सरकार को जागने में 42 दिन लग गए.

चिराग पासवान ने भी कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा, "सीबीआई जांच का आदेश देने के लिए मैं सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया अदा करता हूं, क्योंकि इसने करोड़ों लोगों की भावनाओं का सम्मान किया है, जिस तरीके से सीबीआई को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है, उससे लंबे समय से की जा रही एक मांग को पूरा किया गया है, जिससे अब यह साफ हो जाएगा कि सच क्या है और इस केस को घुमाने में किन लोगों का नाम शामिल है. पासवान ने कहा, "उम्मीद करता हूं कि इस फैसले से उनके परिवार को काफी राहत पहुंची होगी, अब उन्हें न्याय जल्दी मिलेगा."

ये भी पढ़ें- सुशांत केस: सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच की मंजूरी दी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!