ADVERTISEMENT

UP पंचायत चुनाव: BJP, AAP, समाजवादी पार्टी ने किए अलग-अलग दावे

बीजेपी, एसपी दोनों ने किया जीत का दावा

Published
राज्य
2 min read
UP पंचायत चुनाव में पार्टी ने जीते 200 से अधिक प्रधान सीट- AAP

यूपी पंचायत चुनाव के लिए कुछ जगहों पर अभी भी मतगणना जारी है. इस बीच प्रदेश में पहली बार पंचायत चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी का कहना है कि पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 70 से ज्यादा जिला पंचायत सदस्य, 200 से अधिक प्रधान और बीडीसी सीट जीती हैं. पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह का कहना है कि ये अरविंद केजरीवाल के दिल्ली मॉडल पर मुहर की शुरुआत है.

बीजेपी, एसपी दोनों ने किया जीत का दावा

इस बीच उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना के साथ ही सत्तारूढ़ बीजेपी और विपक्षी समाजवादी पार्टी ने दावा किया है कि जिला पंचायत की आधी सीटों पर उनके उम्मीदवार जीते हैं. जहां राज्य में पंचायत चुनाव पार्टी के प्रतीकों पर नहीं लड़े जाते, वहीं इस बार बीजेपी और सपा दोनों ने आधिकारिक तौर पर अपने समर्थित उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए हैं. कांग्रेस ने भी, चयनित सीटों पर अपने उम्मीदवारों का नाम दिया था.

बीजेपी का दावा

बीजेपी ने दावा किया कि जिला पंचायत के लिए 3,051 सदस्यों में से, 918 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी और अन्य 456 आगे थे.बीजेपी प्रवक्ता हरीश चंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि उनकी पार्टी पंचायत चुनावों में अधिकांश सीटें जीत रही थी जो केंद्र और राज्य सरकारों की कल्याणकारी नीतियों का परिणाम थी.

एसपी का दावा

एसपी ने यह भी दावा किया कि 50 प्रतिशत से अधिक विजयी उम्मीदवार उनके समर्थन में थे. एसपी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा, "अब तक घोषित 50 प्रतिशत से अधिक सीटों पर सपा समर्थित उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है. बीजेपी न केवल शहरी क्षेत्रों में, बल्कि गांवों में भी शासन प्रदान करने में अपनी विफलता के लिए जमीन खो चुकी है, विशेषकर महामारी के दौरान इसे और उजागर किया गया है. "

मंगलवार शाम तक सही गिनती का पता चल जाएगा.

कांग्रेस ने टिप्पणी नहीं की

दूसरी ओर, कांग्रेस ने टिप्पणी करने से परहेज किया और कहा कि वे मंगलवार को अपने विजयी उम्मीदवारों की सूची साझा करेंगे. कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने हालांकि कहा, "एसपी और बीजेपी के दावे झूठे हैं. जबकि बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा की थी, एसपी ने अपने उम्मीदवारों का ठीक से नाम भी नहीं बताया था. दोनों ही स्वतंत्र उम्मीदवारों की जीत का दावा कर रहे हैं."

13 लाख उम्मीदवारों ने चुनाव में लिया था हिस्सा

लगभग छह लाख में से 3.27 लाख से अधिक पंचायत पदों के लिए परिणाम आए हैं, जिसके लिए राज्य भर में मतदान हुए हैं. इसके अलावा, 826 केंद्रों पर रविवार को मतगणना शुरू होने से पहले 3.19 लाख से अधिक उम्मीदवारों को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया. राज्य चुनाव आयोग ने कहा कि जिन लोगों को कोई मुकाबला नहीं हुआ, उनके अलावा 2,32,612 ग्राम पंचायत सदस्य, 38,317 ग्राम प्रधान, 55,926 पंचायत सदस्य और 181 जिला पंचायत सदस्य अब तक निर्वाचित घोषित किए गए हैं. 15, 19, 26 और 29 अप्रैल को हुए पंचायत चुनाव में लगभग 13 लाख उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया था.

उनमें से कई मुख्य राजनीतिक दलों द्वारा 'नामांकित' या समर्थित थे, लेकिन पंचायत चुनाव पार्टी के प्रतीकों पर नहीं हुए थे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT