पटना की सड़कों पर आया मगरमच्छ? नहीं, ये वीडियो वडोदरा का है
वीडियो को इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि “भारी बारिश के दौरान पटना में मगरमच्छ” 
वीडियो को इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि “भारी बारिश के दौरान पटना में मगरमच्छ” (फोटो: altered by Quint Hindi)

पटना की सड़कों पर आया मगरमच्छ? नहीं, ये वीडियो वडोदरा का है

दावा

बिहार में लगातार भारी बारिश के बाद राजधानी पटना समेत कई जिलों में बाढ़ आई. पानी में डूबी हुई एक रिहायशी गली में मगरमच्छ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो को इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि "भारी बारिश के दौरान पटना में मगरमच्छ". कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने यह भी दावा किया है कि यह वीडियो पटना के राजेंद्र नगर का है.

Loading...

'Shiksha Point' के फेसबुक पेज से शेयर किए गए इस वीडियो को 18,000 से ज्यादा बार देखा गया और 600 से ज्यादा यूजर्स ने इसे शेयर किया.

सही या गलत?

वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है. वीडियो बिहार के पटना का नहीं है, बल्कि गुजरात के वडोदरा का है और इस साल अगस्त का है.

ये भी पढ़ें- जादवपुर यूनि. के छात्रों ने सुप्रियो से ‘बदसलूकी’ का जश्न मनाया?

पड़ताल में हमें क्या मिला

हमने 'Crocodile Heavy Rain' कीवर्ड का इस्तेमाल करते हुए यूट्यूब पर सर्च किया. हमें एक वीडियो मिला, जिसे 10 अगस्त को अपलोड किया गया था. इस वीडियो का कैप्शन था- crocodile in the city due to continuing rain,heavy rain cause wild animal to get in the city. वीडियो के ब्यौरे से पता चलता है कि यह गुजरात का है.

नतीजतन, हमने 'Gujarat crocodile heavy rain' कीवर्ड का इस्तेमाल करते हुए यूट्यूब पर एक बार फिर सर्च किया. इस बार हमें एक 'एनडीटीवी बुलेटिन' मिला, जिसे 3 अगस्त को अपलोड किया गया था. इसके कैप्शन में लिखा था - ‘Chilling Crocodile Rescue From Flooded Street In Gujarat’.

NDTV के मुताबिक, वीडियो गुजरात के वडोदरा का है, जब वहां 24 घंटे में 500 मिलीमीटर बारिश हुई थी. ओवरफ्लो हो रही नदियों की वजह से, मगरमच्छ शहर की सड़कों पर आ गए थे. इससे वहां के निवासियों में घबराहट की स्थिति पैदा हो गई थी.


NDTV बुलेटिन भी NDRF की एक टीम को एक मगरमच्छ से का रेस्क्यू करते हुए दिखाया गया है. बुलेटिन में यह देखा जा सकता है कि कैसे एक आदमी मगरमच्छ के चेहरे को एक तौलिए से ढक रहा है, जिसके बाद वह दूसरों को ऐसा करने का संकेत देने के लिए मगरमच्छ के ऊपर पर बैठता है.

(क्या आप ऑनलाइन पोस्ट की गई किसी जानकारी के बारे में आश्वस्त नहीं हैं और इसे सत्यापित करना चाहते हैं? 9643651818 पर हमें वॉट्सऐप पर विवरण भेजें, या इसे हमें webqoof@thequint.com पर ई-मेल करें और हम आपके लिए इसकी पड़ताल करेंगे.)

ये भी पढ़ें- मदरसे में यौन शोषण?‘फोटोशॉप’ की हुई पुरानी खबर की जा रही वायरल

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our वेबकूफ section for more stories.

    Loading...