इंडोनेशिया प्लेन क्रैश की बताकर शेयर हो रही 2 साल पुरानी फोटो

पड़ताल में सामने आया कि वायरल फोटो इंडोनेशिया में ही 2 साल पहले हुए शिप एक्सीडेंट की है

Published
इंडोनेशिया प्लेन क्रैश की बताकर शेयर हो रही 2 साल पुरानी फोटो

सोशल मीडिया पर लाइफ जैकेट पहने रोते हुए बच्चे की एक फोटो तेजी से वायरल हो रही है. दावा किया जा रहा है कि फोटो 9 जनवरी को इंडोनेशिया में हुए श्रीविजय प्लेन क्रैश की है, जिसमें 62 लोग सवार थे. ये फ्लाइट टेकऑफ करने के चार मिनट बाद ही रडार से बाहर चली गई थी.

पड़ताल में सामने आया कि ये फोटो 2 साल पहले इंडोनेशिया में हुए एक दूसरे हादसे की है.

दावा

फोटो के साथ शेयर किए जा रहे कैप्शन का हिंदी अनुवाद है - अल्लाहू अकबर, जकार्ता इंडोनेशिया प्लेन क्रैश से एक बच्चा सही सलामत मिला.

इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/DW5Z-TRVH">यहां </a>क्लिक करें
इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/P3XM-FNSA">यहां </a>क्लिक करें&nbsp;
इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें 
इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/SE84-PYN7">यहां </a>क्लिक करें&nbsp;
इस पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें 

पड़ताल में हमने क्या पाया

वायरल फोटो को रिवर्स सर्च करने से हमें 2018 में हुए शिप एक्सीडेंट से जुड़ी न्यूज रिपोर्ट में यही फोटो मिली. इंडोनेशिया की वेबसाइट mongabay की रिपोर्ट में 5 जहाजों के एक्सीडेंट की घटना के बारे में विस्तार से बताया गया है.

न्यूज रिपोर्ट में फोटो के साथ दिए गए कैप्शन से पता चलता है कि ‘केएम लस्तूरी माजू शिप’ एक्सीडेंट में 3 साल के इस बच्चे को एक्सीडेंट के बाद रेस्क्यू कर लिया गया था.

गूगल पर अलग-अलग कीवर्ड सर्च करने से इस एक्सीडेंट से जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स हमारे सामने आईं. 2 साल पहले ये एक्सीडेंट इंडोनेशिया के बुलुकुम्बा टापू के पास हुआ था. इंडोनेशिया डिजास्टर एजेंसी के मुताबिक, इस हादसे में 34 लोगों की मौत हो गई थी. वहीं 155 यात्रियों को बचा लिया गया था.

हादसे के समय इंडोनेशिया डिजास्टर मिटिगेशन एजेंसी के प्रवक्ता Sutopo Purwo Nugroho का एक ट्वीट भी मिला. इस ट्वीट से पुष्टि होती है कि फोटो जुलाई 2018 में हुए शिप हादसे की ही है.

ट्वीट का हिंदी अनुवाद है - कई सोशल मीडिया पोस्ट्स में ये दावा किया जा रहा है कि फोटो जेटी-610 प्लेन क्रैश की है. जबकि असल में ये फोटो में 3 जुलाई, 2018 को हुए केएम लेस्तारी माजू हादसे की है. इसलिए ये दावा भ्रामक है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!