कोरोनावायरस से 60000 लोग संक्रमित, हुबेई में 1 दिन में 242 की मौत
चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 1000 के पार पहुंची
चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 1000 के पार पहुंची(फोटो: AP)

कोरोनावायरस से 60000 लोग संक्रमित, हुबेई में 1 दिन में 242 की मौत

कोरोनावायरस दुनियाभर में पांव पसार रहा है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब तक दुनियाभर में 60 हजार लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वायरस को COVID-19 नाम दिया है. सरकारों के साझा किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक 12 फरवरी तक मेनलैंड चीन में कोरोनावायरस के कुल 59,804 संक्रमित केस पाए गए हैं, जिनमें से 1367 लोगों की इस वायरस के चलते मौत हो गई. इनमें से ज्यादातर केस सेंट्रल प्रॉविन्स हुबेई के रहे हैं.

Loading...

किस देश में कितने केस?

  • मेनलैंड चीन- 59,804 केस, 1,367 मौत
  • हॉन्ग कॉन्ग- 51 केस, 1 मौत
  • मकाऊ- 10 केस
  • जापान- 251 केस
  • सिंगापुर- 58 केस
  • थाईलैंड- 33 केस
  • साउथ कोरिया- 28 केस
  • मलेशिया- 19 केस
  • ताईवान- 18 केस
  • वियतनाम- 16 केस
  • ऑस्ट्रेलिया- 14 केस
  • जर्मनी- 16 केस
  • अमेरिका- 15 केस (एक अमेरिकी नागरिक की चीन में मौत)
  • फ्रांस- 11 केस
  • यूनाइडेट किंगडम- 8
  • UAE- 8 केस
  • कनाडा- 7 केस
  • फिलिपिंस- 3 केस, 1 मौत
  • भारत- 3 केस
  • इटली- 3 केस
  • रूस- 2 केस
  • स्पेन- 2 केस
  • बेल्जियम- 1केस
  • नेपाल- 1केस
  • श्रीलंका- 1 केस
  • स्वीडन- 1 केस
  • कंबोडिया- 1 केस
  • फिनलैंड- 1 केस

हुबेई में सिर्फ 1 दिन में 242 लोगों की मौत

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के एक प्रवक्ता मी फेंग के हवाले से 31 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों और शिंजियांग प्रोडक्शन एंड कंस्ट्रक्शन कॉर्प्स में मौतों और इसके कंफर्म मामलों की जानकारी दी है. बुधवार को हुबेई प्रांत में कोरोनवायरस संक्रमण से अब तक इस बीमारी से एक दिन में सबसे ज्यादा 242 मौतों की जानकारी मिली है.

ये भी पढ़ें : कोरोनावायरस के खात्मे की भविष्यवाणी अभी करना जल्दबाजी: WHO

कोरोनावायरस क्या है?

कोरोनावायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को अपनी चपेट में लेते हैं. कोरोनावायरस एक वायरल इनफैक्शन है. माना जा रहा है कि इससे प्रभावित लोगों के कॉन्टैक्ट में आने से ये फैलता है. इसलिए जो छात्र चीन में पढ़ रहे हैं, उन पर इस वायरस का खतरा सबसे ज्यादा मंडरा रहा है. चीन में पढ़ने वाले छात्रों को वापस बुलाया जा रहा है और उनके टेस्ट कराए जा रहे हैं कि कहीं वो भी तो इस वायरस की चपेट में नहीं हैं.

कहां से शुरू हुई बीमारी?

इस संक्रमण के शुरुआती मामलों के तार चीन के वुहान में सी फूड होलसेल मार्केट से जुड़े हैं. इन बाजारों में मुर्गों, चमगादड़ के साथ सांप भी बेचे जाते हैं. कुछ लोगों का ये भी कहना है कि ये वायरस भी जानवर से ही इंसानों में फैला हो, ऐसा हो सकता है. पहले भी चमगादड़, बंदर से बड़े स्तर पर वायरस फैले हैं. चीन में कोरोनावायरस की वजह से मरने वालों की तादाद बढ़कर 400 के पार पहुंच चुकी है, जबकि इस वायरस से ग्रसित पॉजिटिव मामलों की संख्या 20 हजार के पार चली गई है. इस संक्रमण से सबसे ज्यादा लोगों की मौतें चीन के हुबेई स्टेट में हुई हैं. हुबेई की राजधानी वुहान में दिसंबर में कोरोनावायरस का संक्रमण फैलना शुरू हुआ था और अब यह संक्रमण दुनिया के कई हिस्सों में फैल गया है. एक मौत फिलिपींस में भी हुई है.

ये भी पढ़ें : कोरोनावायरस का इलाज कर रहे डॉक्टरों के पास नहीं हैं सेफ्टी सूट

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our दुनिया section for more stories.

    Loading...