ब्रिटिश पीएम टेरीजा मे ने ब्रेग्जिट डील पर बातचीत फिर की शुरू 

टेरीजा मे डील में चाहती हैं कुछ बदलाव

Updated13 Mar 2019, 05:41 PM IST
दुनिया
2 min read

वीडियो प्रोड्यूसर: अनुभव मिश्रा

वीडियो एडिटर: विवेक गुप्ता

ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने ब्रेग्जिट डील पर यूरोपीय संघ के नेताओं के साथ बातचीत फिर से शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि इस बार टेरीजा मे इस डील पर यूरोपीय संघ के अधिकारियों के साथ टकराव के लिए भी तैयार हैं.

टेरीजा मे का स्वागत यूरोपीय कमिशन के अध्यक्ष ज्यां क्लाउड जंकेर ने किया. उनके स्वागत के लिए आयोजित समारोह के माहौल से ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के 27 सदस्य देशों के बीच तनाव साफ नजर आ रहा था.

टेरीजा के लिए मुश्किल होगा EU के अधिकारियों का सामना

यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने की तारीख 29 मार्च तय की गई थी, जो करीब आ रही है. माना जा रहा है कि ब्रेग्जिट से वापसी संबंधी कानूनी समझौते पर फिर से बातचीत शुरू होने पर यूरोपीय संघ के अधिकारियों के कड़े सवालों का टेरीजा को सामना करना पड़ेगा. इस समझौते को ब्रिटिश संसद ने खारिज कर दिया था लेकिन इससे पहले समझौते की पुष्टि की जा चुकी थी.

दोनों पक्षों के बीच दरार पहले ही कम नहीं थी. उस पर यूरोपीय काउंसिल के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने बुधवार को यह कह कर कड़वाहट गहरी कर दी कि ब्रेग्जिट की प्रक्रिया के बारे में जानकारी ना होने के बावजूद जो लोग इसका समर्थन कर रहे हैं, उनके लिए शायद ‘‘नर्क में खास जगह’’ आरक्षित होगी.

टेरीजा मे और डोनाल्ड टस्क की बातचीत से पहले, कैमरे के सामने होने वाली उनकी सार्वजनिक मुलाकात वाले हिस्से को अचानक ही रद्द कर दिया गया. इससे तल्खियां बढ़ने का और अनुमान है.

टेरीजा चाहती हैं ऑप्शनल सिस्टम

ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा अभी भी 585 पेज के समझौते में बदलाव चाहती हैं, लेकिन यूरोपीय संघ के 27 अन्य नेता लगातार इसका विरोध कर रहे हैं. टेरीजा जोर दे रही हैं कि ‘‘वैकल्पिक व्यवस्था’’ की जा सकती है लेकिन यूरोपीय संघ के अधिकारी लंदन से स्पष्ट व्याख्या का इंतजार कर रहे हैं.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 08 Feb 2019, 02:05 AM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!