सुशांत केस- ड्रग एंगल में गिरफ्तारियां, लेकिन क्या कहता है कानून?

रिया के खिलाफ जो केस बना है, वो आखिर कितना मजबूत है?

Published
पॉडकास्ट
1 min read
जिस ड्रग को लेकर ये मामला फैला है, वो है कैनाबिस, जिसे गांजा या भांग के रूप में हम जानते हैं.
i

रिपोर्ट: फ़बेहा सय्यद
गेस्ट: नवीद अहमद, लीगल रिसर्चर
असिस्टेंट एडिटर: मुकेश बौड़ाई

म्यूजिक: बिग बैंग फज

सुशांत सिंह केस को लेकर पिछले करीब ढ़ाई महीनों में मुंबई पुलिस, बिहार पुलिस, CBI, ED, और NCB की जांच लोग देख चुके हैं. लेकिन तमाम पुलिस महकमों और एजेंसियों में से अब इस केस में एनसीबी एक्शन मोड में है. एनसीबी ने कुछ इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस और रिया के बयान के आधार पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया. जिसके बाद कोर्ट ने रिया को 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भी भेज दिया. जिस कानून के तहत रिया को गिरफ्तार किया गया है वो है NDPS ACT 1985 यानी नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्स्टांसेस एक्ट. इसके किन सेक्शंस के तहत गिरफ्तारी हुई है? आरोप साबित होने पर रिया को इस कानून के तहत क्या सजा मिल सकती है? और रिया के खिलाफ जो केस बना है, वो आखिर कितना मजबूत है, इस पर भी बात करेंगे.

सुनिए आज का बिग स्टोरी पॉडकास्ट

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!