‘कॉफी विद करण’ विवाद के बाद केएल राहुल ने तोड़ी चुप्पी, हुए भावुक

बीसीसीआई ने राहुल और पांड्या को करण जौहर के शो में महिला विरोधी कमेंट करने के लिए तत्काल सस्पेंड कर दिया था.

Published
हार्दिक पांड्या और केएल राहुल 
i

कॉफी विद करण शो में भाग लेने के बाद विवादों के घेरे में आये क्रिकेट खिलाड़ी केएल राहुल और हार्दिक पांड्या की काफी आलोचना हुई थी. भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज केएल राहुल ने उस घटना के बाद पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी है. इंडिया टुडे से बात करते हुए राहुल ने कहा कि वो उनके लिए काफी मुश्किल भरा समय था.

इस मामले में अपने चरित्र पर शक करने के अलावा मैं अपनी कोई और मदद नहीं कर सकता था. 
केएल राहुल, क्रिकेटर

बीसीसीआई ने राहुल और पांड्या को करण जौहर के शो में महिला विरोधी कमेंट करने के लिए तत्काल सस्पेंड कर दिया था. इस मामले की जांच प्रशासकों की समिति ने सुप्रीम कोर्ट के नियुक्त BCCI के लोकपाल को सौंप दी है. अभी मामले में कोई फैसला नहीं आया है.

ये बहुत मुश्किल समय था. मुझे बिलकुल भी अच्छा नहीं लग रहा था कि लोग मुझे नापसंद कर रहे थे. सबसे मुश्किल ये था कि मैं खुद को इतना बुरा कभी नहीं समझता था जितना मेरे बारे में मीडिया में छप चुका था.
केएल राहुल, क्रिकेटर

टॉक शो के बाद बाहर कदम रखने से लगता था डर

अपने इंटरव्यू में राहुल ने इन बातों का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि वो इस घटना के बाद से बाहर कदम रखने से भी डर रहे थे. ये वो समय था जब राहुल अपने सामाजिक जीवन से कट गए थे और उन्हें इस मामले को लेकर पूछे जाने वाले तीखे सवालों से भी घबराहट हो रही थी.

क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शतक बनाने वाले इस क्रिकेटर ने बताया कि इस गुमनामी के समय में उन्हें अपने दोस्तों और परिवार वालों का साथ मिला.

उन्होंने कहा कि ऐसे समय में उनके साथ खड़े रहने वाले लोग उनके सच्चे दोस्त हैं. उन्होंने इंडियन टीम के सभी खिलाड़ियों को भी सहयोग देने के लिए धन्यवाद दिया.

सोशल मीडिया से दूर रहने की सलाह मानी

ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस भजे जाने के दौरान भी उन्हें कई खिलाड़ियों और स्टाफ मेम्बर्स का खास सहयोग मिला. राहुल ने कहा की जब वो वापस लौट रहे थे तब भी कई लोग उनके पास आये और उन्हें अपनी गलती सुधारने और पश्चाताप करने की सलाह दी. भारतीय टीम मेम्बर्स ने भी उन्हें सलाह दी की जितना हो सके उतना सोशल मीडिया से दूर रहें और उसपर फैलाई जा रही निगेटिविटी से बचें.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!