चुनावी चौपाल:बीड में सुविधाएं तो मिलीं लेकिन रोजगार पर उम्मीद बाकी

चुनावी चौपाल:बीड में सुविधाएं तो मिलीं लेकिन रोजगार पर उम्मीद बाकी

न्यूज वीडियो

वीडियो एडिटर: वरुण शर्मा

वीडियो प्रोड्यूसर: कौशिकी कश्यप

2019 लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र की बीड लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी से मौजूदा सांसद प्रीतम मुंडे समेत कुल 36 उम्मीदवार मैदान में हैं. 18 अप्रैल को होने वाली वोटिंग को लेकर क्या है जनता का मूड? महाराष्ट्र की बीड लोकसभा क्षेत्र से क्विंट का चुनावी चौपाल.

यहां के स्थानीय निवासी 5 सालों में हुए विकास को लेकर संतुष्ट नजर आ रहे हैं. उनका कहना है कि मोदी सरकार के 5 साल के कार्यकाल में भ्रष्टाचार को काबू में लाया गया है.

‘देश में विकास होना चाहिए और भ्रष्टाचार खत्म होना चाहिए, और ऐसा हो रहा है तो ठीक है, सरकार ने अच्छा काम किया है, गरीबों को गैस की सुविधा मिली है, कुछ अड़चनें हैं लेकिन सुविधाएं मिल रही हैं.’

वहीं कुछ लोगों को कांग्रेस और बीजेपी के काम की तुलना सही नहीं लगती. एक स्थानीय का कहना है

‘किसानों के लिए अच्छा काम किया है मोदी सरकार ने, 2 हजार रुपये उनके खाते में आ रहे हैं, लेकिन कांग्रेस ने अब तक एक रुपया भी नहीं दिया. मोदी सरकार ने हर किसान को 2 हजार रुपये देने का वादा किया है तो इन्हें 5 साल और देना चाहिए.’

ये भी पढ़ें : आगरा: बीजेपी के चुनावी नतीजों पर पड़ सकती है नोटबंदी-GST की मार

वहीं बीड के युवाओं का रोजगार के मुद्दे पर कहना है कि मोदी सरकार ने 2 करोड़ रोजगार का वादा किया था लेकिन अभी तक रोजगार नहीं दिया.

हमारी चुनावी चौपाल में गांव और छोटे शहर में रहने वाले किसान और युवाओं की मिली-जुली प्रतिक्रिया देखने को मिली है. कुछ लोगों का कहना है कि मोदी सरकार को एक और मौका देना चाहिए, वहीं रोजगार के मुद्दे को लेकर मोदी सरकार के प्रति युवाओं में नाराजगी देखने को मिली.

ये भी देखें: UP: गन्ना किसानों का बढ़ता बकाया,चुनावी मौसम में BJP के लिए चुनौती

(My रिपोर्ट डिबेट में हिस्सा लिजिए और जीतिए 10,000 रुपये. इस बार का हमारा सवाल है -भारत और पाकिस्तान के रिश्ते कैसे सुधरेंगे: जादू की झप्पी या सर्जिकल स्ट्राइक? अपना लेख सबमिट करने के लिए यहां क्लिक करें)


Follow our न्यूज वीडियो section for more stories.

न्यूज वीडियो

    वीडियो