‘चौकीदार’ शब्द पर हो-हल्ला, BJP के कैंपेन पर विपक्ष की चुटकी
बीजेपी का नया कैंपेन पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया के टॉप ट्रेंड्स में अपनी जगह बनाए हुए है
बीजेपी का नया कैंपेन पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया के टॉप ट्रेंड्स में अपनी जगह बनाए हुए है(फोटो: क्विंट)

‘चौकीदार’ शब्द पर हो-हल्ला, BJP के कैंपेन पर विपक्ष की चुटकी

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक शब्द को लेकर काफी हो-हल्ला मचा हुआ है. वो शब्द है 'चौकीदार'! बीजेपी का नया कैंपेन #MainBhiChowkidar पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया के टॉप ट्रेंड्स में अपनी जगह बनाए हुए है. पीएम मोदी भी अब अपने नाम के आगे चौकीदार लगा 'चौकीदार नरेंद्र मोदी' बन गए हैं.

चौकीदार शब्द भारतीय राजनीति में नया नहीं है. मोदी ने साल 2014 में चुनाव प्रचार में इस शब्द का जमकर इस्तेमाल किया था. मोदी ने कहा था कि वो देश के चौकीदार बनना चाहते हैं, न कि प्रधानमंत्री.

शनिवार 16 मार्च को, नरेंद्र मोदी ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें कई लोग 'हां, मैं भी चौकीदार हूं' बोलते दिख रहे थे. पीएम ने कहा, 'आपका चौकीदार देश की सेवा कर रहा है, लेकिन मैं अकेला नहीं हूं. जो भी भ्रष्टाचार और सामाजिक बुराइयों के खिलाफ लड़ रहा है, चौकीदार है.'

इसके बाद बीजेपी के सभी मंत्रियों और नेताओं ने अपने नाम के आगे चौकीदार लगाना शुरू कर दिया. अरुण जेटली, अमित शाह, पीयूष गोयल, जेपी नड्डा और बाकी नेताओं ने ट्विटर पर अपने नाम के आगे 'चौकीदार' शब्द जोड़ा.

बीजेपी नेताओं ने अपने नाम के आगे जोड़ा ‘चौकीदार’ शब्द
बीजेपी नेताओं ने अपने नाम के आगे जोड़ा ‘चौकीदार’ शब्द
(फोटो: स्क्रीनग्रैब)

कई नेताओं ने जहां अपने नाम के आगे 'चौकीदार' शब्द जोड़ा, वहीं सुषमा स्वराज रविवार तक इस कैंपेन का हिस्सा नहीं बनी थीं. सुषमा स्वराज के चौकीदार न जोड़ने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुटकी ली. उन्होंने लिखा, 'सुषमा जी को अपने हैंडल में 'चौकीदार' शब्द जोड़ने के लिए कहें, ये काफी खराब दिख रहा है.'

ये भी पढ़ें : BJP की वेबसाइट अब भी डाउन,ट्विटर यूजर्स बोले-‘ये भी नेहरू ने किया’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी काफी समय बाद अपने नाम के आगे चौकीदार शब्द जोड़ा.

जहां बीजेपी इस शब्द का इस्तेमाल लोगों से जुड़ने के लिए कर रही है, वहीं कांग्रेस ने इसे बीजेपी के खिलाफ किया. राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि जब नीरव मोदी और विजय माल्या देश के बैंकों को लूटकर भागे तब ‘चौकीदार’ ने कुछ नहीं किया.

इसके बाद ही बीजेपी #MainBhiChowkidar कैंपेन लेकर आई. कैंपेन में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जोड़ने के लिए #MainBhiChowkidar हैशटैग का इस्तेमाल करने के लिए कहा गया.

विपक्ष का हमला

राहुल गांधी ने मोदी की फोटो के साथ विजय माल्या, नीरव मोदी और अनिल अंबानी की फोटो शेयर करते हुए लिखा, 'आज आप गिल्टी फील कर रहे हैं?'

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी इस कैंपेन पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया.

पी चिदंबरम ने लिखा, 'मैं भी चौकीगार क्योंकि जिस चौकीदार को मैंने नौकरी पर रखा था वो गायब है. मुझे बताया गया कि वो अच्छे दिन की तलाश में गया है.'

अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि ये कैंपेन किसानों और युवाओं का अनादर है.

इस कैंपेन पर कई सवाल भी खड़े किए गए. कई ट्विटर यूजर्स के मुताबिक 'चौकीदार' कैंपेन ने बीजेपी की बजाय कांग्रेस को ज्यादा फायदा पहुंचाया है.

एक ट्विटर यूजर के मुताबिक कांग्रेस के हैशटैग #ChowkidarChorHai की रिकॉल वैल्यू ज्यादा रही. उन्होंने कहा, 'चौकीदार शब्द का उपयोग करके और इसे डिफेंसिव बनाते हुए, आप कॉम्पटिटर टैगलाइन की पहुंच को आगे बढ़ा रहे हैं. आपने अपने कॉम्पटिशन के प्रमोशन के लिए पैसे दिए.'

ये भी पढ़ें : विपक्ष का मिलना ‘महामिलावट’, तो मोदी जी BJP गठबंधन को क्या कहेंगे?

(My रिपोर्ट डिबेट में हिस्सा लिजिए और जीतिए 10,000 रुपये. इस बार का हमारा सवाल है -भारत और पाकिस्तान के रिश्ते कैसे सुधरेंगे: जादू की झप्पी या सर्जिकल स्ट्राइक? अपना लेख सबमिट करने के लिए यहां क्लिक करें)


Follow our सोशल दंगल section for more stories.

    वीडियो