ADVERTISEMENT

कैफीन करना है कम, तो ये 10 हर्बल टी करें इस्तेमाल, आपकी सेहत का रखेंगे ख्याल

चाय की लोकप्रियता के कारण अब कई तरह के चाय उपलब्ध हैं. यहां 10 चायों के बारे में बताया गया है, जो आपको जानना चाहिए.

Published
फिट
5 min read
कैफीन करना है कम, तो ये 10 हर्बल टी करें इस्तेमाल, आपकी सेहत का रखेंगे ख्याल
i

हर्बल चाय आज कल स्वास्थ्य की दुनिया में बहुत लोकप्रिय हो गया है. 'चाय' नाम होने के बावजूद, ये कैमेलिया साइनेंसिस पौधे से नहीं बनते हैं; बल्कि, वे अलग-अलग हर्ब्स और मसालों को साथ में उबालकर बनाए जाते हैं.

हर्बल चाय सिर्फ पीने में अच्छे नहीं होते हैं, उन्हें पीने के कई फायदे हैं और सदियों से पारंपरिक चिकित्सा में उनका उपयोग किया जा रहा है.

अगर आप कैफीन कम करने की कोशिश कर रहे हैं और एक विकल्प ढूंढ रहे हैं, तो यहां 10 हर्बल चायों के बारे में बताया गया है, जिन्हें आपको अच्छे स्वास्थ्य के लिए हर दिन पीना चाहिए.

ADVERTISEMENT
इन चायों को बनाने के लिए: हर्ब्स को उबलते पानी में डालें और गैस बंद कर दें. इसे कम से कम 5-10 मिनट तक रहने दें और फिर इन्हें गर्म ही पियें.

1. कैमोमाइल चाय

कैमोमाइल चाय दुनिया के सबसे प्रसिद्ध हर्बल चाय में से एक है और अब यह कई लोगों की दैनिक दिनचर्या का एक नियमित हिस्सा है. कैमोमाइल चाय कैमोमाइल फूल से बनाई जाती है, जो डेजी परिवार का हिस्सा है. इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • यह बेहतर नींद दिलाने में मदद करता है, इससे अधिक REM नींद मिलती है और रातों में जगना कम होता है.

  • यह हमें शांत करता है और चिंता कम करने में मदद करता है.

  • यह पीएमएस या प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम के लक्षणों को कम करता है.

2. पेपरमिंट चाय

पेपरमिंट चाय पेपरमिंट या स्पीयरमिंट की पत्तियों से बनाई जाती है, जो पारंपरिक उपचार में अक्सर इस्तेमाल किया जाता है. पेपरमिंट की पहचान इसका मिन्टी फ्लेवर है, जो मेन्थॉल नामक कंपाउंड से आता है. इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • यह पाचन स्वास्थ्य सुधारने में मदद करता है.

  • यह इन्टेस्टाइन को आराम देता है और दर्दनाक ऐंठन को कम करता है.

  • यह IBS, यानि इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के लक्षणों को कम करने में मदद करता है.

  • यह नॉजिया, अपच और एसिडिटी को कम करता है.

3. अदरक की चाय

अदरक की चाय हम में से कई लोग पीते हैं. अक्सर हम इसमें हल्दी, शहद या नींबू मिलाते हैं. अदरक में जिंजरोल होता है, जो इसके कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जिम्मेदार है. इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • यह मोशन सिकनेस या प्रेग्नेंसी के कारण होने वाली नॉजिया से राहत देता है.

  • यह पाचन संबंधी अन्य समस्याओं जैसे अपच या कब्ज को ठीक करने में मदद करता है.

  • अदरक डिसमेनोरिया या पीरियड के दर्द से राहत देता है, और पेन किलर का काम करता है.

  • अदरक में मौजूद कंपाउंडों में एंटी इन्फ्लैमटोरी गुण होते हैं और ये इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करते है.

4. हाइबिस्कस चाय

हाइबिस्कस के फूलों का उपयोग कई औषधीय उपचारों में किया जाता है. इन फूलों का उपयोग चाय बनाने के लिए भी किया जाता है. यह चाय एक सुंदर गुलाबी रंग और थोड़ा तीखे स्वाद वाला होता है. इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • यह फ्री रैडिकल से होने वाले नुकसान को कम करने में मदद करता है, जिससे सेल में ऑक्सीडेटिव तनाव कम होता है.

  • यह सिस्टोलिक और डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है.

  • यह BMI को कम करने और वजन घटाने में मदद करता है.

  • एंटीवायरल गुणों के कारण, यह बर्ड फ्लू जैसे संक्रमणों से लड़ने में मदद करता है.

ADVERTISEMENT

5. सौंफ की चाय

सौंफ एक ऐसा मसाला है, जो दुनिया भर के विभिन्न व्यंजनों में पाया जाता है, और अपने कई लाभों के लिए जाना जाता है. हालांकि, कम ही लोग जानते हैं कि इन लाभों को प्राप्त करना बहुत आसान है - बस सौंफ की चाय बना कर पियें! इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • यह IBS जैसे पाचन की परेशानियों को ठीक करने में मदद करता है.

  • यह डाइजेस्टिव मसल को आराम देता है और रेगुलर बाउल मूवमेंट में मदद करता है.

  • यह अधिक खाने या अपच से होने वाली परेशानियों  से राहत प्रदान करता है.

6. लेमन बाम चाय

लेमन बाम एक हर्ब है, जो पुदीना के परिवार से है और उसी के समान दिखता है. लेमन बाम का उपयोग भोजन में फ्लेवर के लिए किया जाता है, लेकिन इसे चाय के रूप में पीने के भी कई फायदे हैं:

  • यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव नुकसान से बचाता है.

  • यह मूड में सुधार और चिंता को कम करने में मदद करता है.

  • यह कॉग्निटिव परफॉरमेंस और फोकस सुधारने में भी मदद करता है.

  • यह नॉजिया और पीरियड्स में होने वाली परेशानी को भी कम करता है

7. मोरिंगा टी

मोरिंगा से हम सब परिचित हैं और अब दुनिया भर में अधिक लोकप्रियता बढ़ गई है. इसे सहजन के नाम से भी जाना जाता है. इस पौधे की पत्तियां छोटी और गोल होती हैं, और ये कई स्वास्थ्य लाभों से भरी होती हैं:

  • मोरिंगा के पत्ते विटामिन सी, क्वेरसेटिन और क्लोरोजेनिक एसिड जैसे एंटीऑक्सीडेंट से भरे होते हैं.

  • मोरिंगा के पत्तों में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं.

  • यह कोलेस्ट्रॉल कम करने और हृदय रोग से बचाने में मदद करता है.

8. लैवेंडर टी

लैवेंडर एसेंशियल ऑइल कई घरेलू उपचारों में इस्तेमाल होता है, खासकर नींद से संबंधित परेशानियों के लिए. इसी तरह के लाभ लैवेंडर चाय में भी होते हैं, जो लैवंडुला एंगुस्टिफोलिया पौधे की कलियों से बनाई जाती है. इसके स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं:

  • लैवेंडर में मौजूद कुछ कंपाउंड मस्तिष्क को उत्तेजित करते हैं, जिससे मूड अच्छा होता है.

  • यह हमें शांत करने और चिंता को कम करने में मदद कर सकता है.

  • सोने से पहले लैवेंडर चाय पीने से अच्छी नींद आती है.

  • यह ऐंठन जैसे PMS के लक्षणों को कम करने में मदद करता है.

ADVERTISEMENT

9. रूइबोस चाय

रूइबोस चाय रूइबोस पौधे की पत्तियों से बनाई जाती है, जिसे रेड बुश प्लांट भी कहा जाता है. रूइबोस दक्षिण अफ्रीका की एक कैफीन-मुक्त, पौष्टिक, स्वादिष्ट और प्राकृतिक रूप से मीठी चाय है, और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं जैसे:

  • यह एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है और एचडीएल या अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है.

  • यह बोन डेंसिटी और हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार लाने में मदद करता है.

  • इसके एंटी इंफ्लेमेटरी गुण कोशिकाओं की रक्षा कर सकते हैं.

10. रोजहिप चाय

रोजहिप, गुलाब के फूल के ठीक नीचे के हिस्से को कहते हैं. ये छोटे और गोल होते हैं. इससे बनी चाय में कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं:

  • यह इम्यून सिस्टम में सुधार लाने और सूजन से लड़ने में मदद करता है.

  • यह वजन घटाने और एक स्वस्थ बीएमआई बनाए रखने में मदद करता है.

  • इसमें एंटी एजिंग गुण होते है और यह झुर्रियों को कम करने और त्वचा की इलास्टिसिटी में सुधार लाने में मदद करता है.

हर्बल चाय बनाते समय इन बातों का ध्यान रखें

  1. चाय या टी-बैग्स खरीदते समय ध्यान रखें कि उनमें कोई एडेड-फ्लेवर न हों ताकि आप चाय के असली फ्लेवर का आनंद उठा सकें.

  2. यदि आप कुछ पैसे बचाना चाहते हैं, तो चाय की गुणवत्ता से समझौता न करें - बल्कि टी बैग्स की बजाय लूज पत्ती वाली चाय का विकल्प चुनें.

  3. यदि आप टी बैग्स चुनते हैं, तो ऐसे टी बैग चुनें जो पर्यावरण के अनुकूल और बायोडिग्रेडेबल हों.

  4. अधिकांश हर्बल चाय का स्वाद, उबलते पानी के बजाय गर्म पानी का उपयोग करने से, सबसे अच्छा लगता है.

  5. यदि आपके पास अतिरिक्त बची हुई चाय है, तो आप इसका उपयोग चावल पकाने के लिए या किसी अन्य डिश में कर सकते हैं.

हर्बल चाय काफी पोटेन्ट हो सकती है, इसलिए यदि आपको कोई बीमारी है या आपका इलाज चल रहा है, तो कृपया अपने आहार में हर्बल चाय को शामिल करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें, क्योंकि हर्ब्स दवा के साथ रिएक्ट कर सकते हैं.

(प्रतिभा पाल ने अपना बचपन रमणीय स्थानों में बिताया है, जिनके बारे में केवल फौजी बच्चों ने सुना होगा. वह कई तरह की किताबें पढ़कर बड़ी हुई हैं, जो उनकी कल्पना को भटकने में मदद करते हैं और वे अभी भी मैजिक फारवे ट्री तक पहुंचने की उम्मीद रखती हैं. आप उनका ब्लॉग यहाँ देख सकते हैं - www.pratsmusings.com या ट्विटर पर भी उन तक पहुंच सकते हैं @ मायेपिका.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, fit के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  Healthy diet   Herbal Tea 

ADVERTISEMENT
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×