कश्मीर: अगस्त 2019 के बाद अब खुले स्कूल, एक छात्र का अनुभव

कश्मीर: अगस्त 2019 के बाद स्कूल का पहला दिन

Updated
My रिपोर्ट
2 min read

वीडियो एडिटर: पूर्णेंदु प्रीतम

सोमवार 21 सितंबर को कश्मीर (Kashmir) में लगभग एक साल के बाद 9वीं से 12वीं क्लास के लिए स्कूल फिर खोले गए, इतने लंबे समय तक स्कूल बंद रहने का कारण पहले आर्टिकल 370 (Article 370) को हटाया जाना था, फिर कोरोनावायरस (Coronavirus) की वजह से लॉकडाउन बढ़ाया गया.

कश्मीर के एक छात्र ने इतने महीने बाद पहली बार स्कूल जाने का अनुभव साझा किया. पढ़िए उसने क्या कहा-

मैं स्कूल खुलने को लेकर बहुत उत्सुक भी था और डरा हुआ भी. सैनिटाइजर से लेकर मास्क तक मैं हर तरह की सावधानी बरत रहा हूं. मुझे लगता है कि जो भी हम बच्चों से ऑनलाइन क्लास और 2G इंटरनेट की धीमी स्पीड के कारण छूट गया वो अब हम कवर कर पाएंगे.

हम लोग बहुत कुछ मिस कर चुके हैं, मुझे लगा हम जल्द से जल्द अपना सिलेबस पूरा करेंगे, क्योंकि परीक्षा भी जल्द होने वाली है, लेकिन बदकिस्मती से स्कूल में न के बराबर लोग हैं.

स्कूल में बहुत कम स्टाफ है और बच्चे भी बहुत कम हैं, इसी के कारण स्कूल की छुट्टी भी जल्द हो गई, हम उतना पढ़ नहीं पाए जितनी आशा थी.

एक कारण ये भी है कि अगर ज्यादा लोग होंगे तो COVID-19 से संक्रमित होने का भी डर है, और कोई भी माता-पिता नहीं चाहेंगे कि स्कूल जाने के कारण उनके बच्चे को संक्रमण हुआ.

किस्मत से मैं अपने कुछ दोस्तों से मिला लेकिन हम हाथ नहीं मिला सकते थे, हम सब स्कूल में सोशल डिस्टेंसींग का पालन कर रहे हैं.

उम्मीद है कि जल्द सब ठीक होगा और स्कूल में सभी बच्चे आ सकेंगे.

(सभी 'माई रिपोर्ट' ब्रांडेड स्टोरिज सिटिजन रिपोर्टर द्वारा की जाती है जिसे क्विंट प्रस्तुत करता है. हालांकि, क्विंट प्रकाशन से पहले सभी पक्षों के दावों / आरोपों की जांच करता है. रिपोर्ट और ऊपर व्यक्त विचार सिटिजन रिपोर्टर के निजी विचार हैं. इसमें क्‍व‍िंट की सहमति होना जरूरी नहीं है.)

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!