ADVERTISEMENTREMOVE AD

Nepal Plane Crash: को-पायलट अंजू का सपना पूरा होने ही वाला था कि हादसा हो गया

Nepal Plane Crash: नेपाली अधिकारियों ने अब तक कम से कम 68 शव बरामद किए हैं, जबकि बाकी शवों की तलाश जारी है.

Published
भारत
3 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

नेपाल के पोखरा में (Pokhra Airline Crash) यति एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें सह-पायलट अंजू खातीवाड़ा (Co-Pilot Anju Khatiwada) की भी मौत हो गई. 16 साल पहले इनके पायलट पति की मौत भी इसी एयरलाइन की एक विमान दुर्घटना में हुई थी. बता दें कि 15 जनवरी को लैंडिंग से कुछ मिनट पहले, 68 यात्रियों और चालक दल के चार सदस्यों के साथ एटीआर-72 विमान एक घाटी में दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

नेपाली अधिकारियों ने अब तक कम से कम 68 शव बरामद किए हैं. जबकि बाकी शवों की तलाश जारी है.

'पति की मौत के बाद बीमा के पैसों से पायलट की ट्रेनिंग ली'

अंजू खातीवाड़ा के पति दीपक पोखरेल की भी 16 साल पहले एक विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी. एयरलाइन के प्रवक्ता सुदर्शन बरतौला ने बताया,

"उनके पति दीपक पोखरेल की 2006 में जुमला में येती एयरलाइंस के ट्विन ओटर विमान की दुर्घटना में मौत हो गई थी."
सुदर्शन बरतौला

बरतौला ने कहा, "उन्होंने अपने पति की मौत के बाद बीमा के पैसों से पायलट की ट्रेनिंग ली थी."

नेपाली टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एयरलाइंस का 9N AEQ विमान 21 जून 2006 को नेपालगंज से जुमला होते हुए सुरखेट के रास्ते दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसके परिणामस्वरूप सह-पायलट पोखरेल सहित छह यात्रियों और चालक दल के चार सदस्यों की मौत हो गई थी.

Nepal Plane Crash: नेपाली अधिकारियों ने अब तक कम से कम 68 शव बरामद किए हैं, जबकि बाकी शवों की तलाश जारी है.

प्लेन डी हैविलैंड कनाडा डीएचसी-6 ट्विन ओटर 300 का दुर्घटनास्थल.

(फोटो: एविएशन-सेफ्टी.नेट)

'रनवे इज क्लियर': पायलट कमल के.सी

नेपालखबर ने बताया कि वरिष्ठ पायलट केसी कमल ने यति एयरलाइंस एटीआर -72 विमान को उतारने से पहले काठमांडू में हवाई यातायात नियंत्रण (एटीसी) से कहा था, "मौसम सुंदर है. बहुत अच्छी दृश्यता है. रनवे साफ है."

कमल ने 1989 में नेपाल एयरलाइंस के ट्विन-ओटर विमान में एक ट्रेनी पायलट के रूप में अपना करियर शुरू किया था. रविवार 15 जनवरी को, वह सह-पायलट खातीवाड़ा को विमान पर फाइनल ट्रेनिंग दे रहे थे, जो कि पायलट बनने से पहले पोखरा के लिए उनकी तीसरी उड़ान थी.

पायलट कोर्स पूरा करते समय को-पायलट को बायीं सीट पर बैठाया जाता है जबकि पायलट दायीं ओर बैठता है.

एक पायलट ने नेपालखबर को बताया, "पोखरा जाने वाले विमान में पायलट कमल ने यही किया." नेपाल के बिराटनगर की रहने वाली खातीवाड़ा सात साल के एक बच्चे की मां थी और उनका फ्लाइंग टाइम 6,400 घंटे से ज्यादा का था.

क्योंकि मौसम साफ था इसलिए यह देखा जाना बाकी है कि दुर्घटना के कारण क्या थे.

इस बीच काठमांडू में हवाई अड्डे के अधिकारी शेर बाथ ठाकुर ने कहा कि ब्लैक बॉक्स - एक कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर - मिल गया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

विमान में सवार पांच भारतीयों की मौत की पुष्टि

भारतीय दूतावास और एयरलाइंस द्वारा पुष्टि के मुताबिक 72 सीटों वाले विमान में पांच भारतीय यात्री सवार थे. अब पांचों की मौत की पुष्टि हो गई है.

यति एयरलाइंस ने कहा कि जहाज पर सवार पांच भारतीयों की पहचान अभिषेक कुशवाहा, विशाल शर्मा, अनिल कुमार राजभर, सोनू जायसवाल और संजय जायसवाल के रूप में हुई है.

दुर्घटनाग्रस्त यति एयरलाइंस के विमान में सवार एक भारतीय यात्री सोनू जायसवाल द्वारा एक कथित फेसबुक लाइव में रविवार, 15 जनवरी को दुर्घटनाग्रस्त होने और आग की लपटों में फटने से पहले विमान को एक तीव्र मोड़ लेते हुए देखा जा सकता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×