कौन हैं डॉ विवेक मूर्ति? बाइडेन की COVID टीम में हो सकते हैं शामिल

राष्ट्रपति कैंपेन के दौरान, पब्लिक हेल्थ और कोरोना वायरस महामारी पर मूर्ति, बाइडेन के टॉप एडवाइजर्स में शामिल थे.

Updated
कौन हैं डॉ विवेक मूर्ति? बाइडेन की COVID टीम में हो सकते हैं शामिल

अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन चुनाव में जीत दर्ज करते ही एक्शन मोड में आ चुके हैं. बाइडेन का पहला कदम कोरोना संक्रमण को रोकने की दिशा में होगा, जिसके लिए वो सोमवार को कोविड टास्क फोर्स का गठन करेंगे. बाइडेन की इस 12 सदस्यीय कोविड कंट्रोल टीम का हिस्सा कौन बनेगा, इसके काफी चर्चे हैं और सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है डॉ. विवेक मूर्ति के नाम की. तो कौन हैं डॉ विवेक मूर्ति और इनका भारत से क्या है ताल्लुक? जानिए.

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, भारतीय-अमेरिकी फिजिशियन डॉ विवेक मूर्ति, फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन कमिश्नर डॉ डेविड केसलर और येल यूनिवर्सिटी के जॉ मार्सेला नून्ज-स्मिथ इस टीम की अगुवाई करेंगे.

कर्नाटक से ताल्लुक रखने वाले विवेक मूर्ति का जन्म 10 जुलाई, 1977 को इंग्लैंड में हुआ था. उनकी उम्र काफी कम थी जब उनका परिवार इंग्लैंड से अमेरिका चला गया था.

डॉ मूर्ति की वेबसाइट के मुताबिक, उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी, येल स्कूल ऑफ मेडिसिन और येल स्कूल ऑफ मैनेजमेंट से पढ़ाई की है. बॉस्टन के ब्रिगम एंड वीमेंस अस्पताल से इंटरनल मेडिसिन रेसीडेंसी पूरी करने के बाद उन्होंने हार्वर्ड मेडिकल स्कूल में बतौर फैकल्टी ज्वाइन किया था.

अमेरिका के सबसे कम उम्र के जनरल सर्जन

फिजिशियन डॉ. विवेक मूर्ति अमेरिका के 19वें जनरल सर्जन थे. 2014 में तब राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उन्हें अमेरिका के टॉप डॉक्टर के पद पर बिठाया था. ये पद हासिल करने वाले वो सबसे कम उम्र (37 साल) के और पहले भारतीय-अमेरिकी शख्स थे. डॉ मूर्ति 15 दिसंबर 2014 से 21 अप्रैल 2017 तक इस पद पर रहे.

2017 में डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने उन्हें इस पद से हटा दिया था.

बाइडेन के चुनावी कैंपेन में उभरे

राष्ट्रपति चुनाव कैंपेन के दौरान, पब्लिक हेल्थ और कोरोना वायरस महामारी पर मूर्ति, बाइडेन के टॉप एडवाइजर्स में शामिल थे. मई में, बाइडेन कैंपेन ने मूर्ति और कांग्रेसवुमेन प्रमीला जयपाल को हेल्थकेयर टास्क फोर्स का सह-अध्यक्ष बनाया था. वो लगातार बाइडेन को ब्रीफ करते थे और नीतियां बनाने में मदद करते थे. उच्च अधिकारियों के साथ मिलकर सुरक्षित कैंपेन इवेंट कराने में भी मदद करते थे.

कई फंडरेजर इवेंट में बाइडेन, मूर्ति की तारीफों के पुल बांध चुके हैं. कई रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि वो बाइडेन प्रशासन में हेल्थ सेक्रेटरी बन सकते हैं.

साइंस पर आधारित होगा बाइडेन का कोविड प्लान

अमेरिका का राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद डेलावेयर में अपने भाषण में जो बाइडेन ने कोविड संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए टीम के गठन का ऐलान किया था. उन्होंने कहा कि उनका ये प्लान साइंस पर आधारित होगा.

“हमारा काम कोविड को कंट्रोल करने से शुरू होता है. जब तक हम इस महामारी को काबू में नहीं कर लेते, तब तक हम अपनी अर्थव्यवस्था को नहीं सुधार सकते. तब तक अपने नाती-पोतों को गले लगाने, जन्मदिन, शादियां, शिक्षा जैसे अपनी जिंदगी के सबसे अहम पलों का आनंद नहीं ले सकते.”
जो बाइडेन, US प्रेसिडेंट-इलेक्ट

बाइडेन-हैरिस कोविड कंट्रोल प्लान की शुरुआत अगले साल 20 जनवरी से होगी. बाइडेन ने कहा था, "मैं महामारी को रोकने में कोई कसर नहीं छोड़ूंगा."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!