ADVERTISEMENTREMOVE AD

एमजे अकबर पर आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी को कोर्ट का समन

केंद्रीय मंत्री पर लगाया था यौन शोषण का आरोप, अब कोर्ट से मिला समन

Updated
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

पिछले दिनों चले मीटू कैंपेन के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाने वालीं पत्रकार प्रिया रमानी को कोर्ट की तरफ से समन भेजा गया है. प्रिया रमानी को बतौर आरोपी समन भेजा गया है. आरोप लगाए जाने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने प्रिया पर मानहानि का केस किया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पटियाला हाउस कोर्ट का फैसला

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने प्रिया रमानी को यह समन भेजा है. पत्रकार को अब 25 फरवरी को होने वाली सुनवाई से पहले कोर्ट के सामने पेश होना होगा. इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने आपराधिक मानहानि के इस मामले में फैसला सुरक्षित रख लिया था. कोर्ट ने कहा था कि 29 जनवरी को इस बात पर फैसला लिया जाएगा कि प्रिया रमानी को बतौर आरोपी समन भेजा जाए या नहीं.

यौन शोषण के आरोपों के बाद, केंद्र की मोदी सरकार में राज्य मंत्री के पद पर मौजूद एमजे अकबर को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. पूरे राजनीतिक जगत में इस बात पर हंगामा हुआ था 
0

इमेज खराब करने के लगाए थे आरोप

पत्रकार प्रिया रमानी ने मीटू कैंपेन के दौरान एमजे अकबर पर गंभीर यौन शोषण के आरोप लगाए थे. जिसके बाद एमजे अकबर ने कोर्ट में उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा कर दिया था. अकबर ने आरोप लगाए थे कि प्रिया रमानी ने समाज में उनकी इमेज को खराब करने की कोशिश की है. उन्होंने खुद पर लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताया था.

ADVERTISEMENT

कई महिलाओं ने लगाए थे आरोप

कई महिलाओं ने आरोप लगाया था कि सीनियर जर्नलिस्ट रहे अकबर होटल के कमरे में उनका इंटरव्यू लेते थे और उन्हें अपने बिस्तर और शराब ऑफर करते थे. एक महिला ने हार्वे विन्सिटन्स ऑफ द वर्ल्ड नाम से लिखे पोस्ट में कहा है कि अकबर गंदे फोन कॉल, टेक्स्ट, और असहज करने वाले कॉम्प्लिेंट्स में माहिर हैं.

पोस्ट में कहा गया था, ‘आप जानते हैं कि कैसे चुटकी काटी जाए. थपथपाया जाए, जकड़ा जाए और हमला किया जाए. आपके खिलाफ बोलने की अब भी भारी कीमत चुकानी पड़ती है. ज्यादातर युवा महिलाएं यह कीमत अदा नहीं कर सकतीं'

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×