ADVERTISEMENTREMOVE AD

Fact Check: उद्धव ठाकरे ने नहीं बताया मुगल बादशाह औरंगजेब को अपना भाई

उद्धव ठाकरे औरंगजेब नाम के एक भारतीय सैनिक को अपना भाई रहे थे, जिनकी 2018 में हत्या कर दी गई थी.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें वो औरंगजेब के बारे में बात करते हुए उसे अपना भाई और शहीद बताते नजर आ रहे हैं.

किसने किया है शेयर?: इसी वीडियो को कई सोशल मीडिया यूजर्स के साथ-साथ महाराष्ट्र के विधायक नितेश राणे ने भी शेयर किया है और उद्धव ठाकरे को मुगल बादशाह ''औरंगजेब का समर्थन करने के लिए धोखेबाज'' बताया है.

ये दावा ऐसे समय में किया जा रहा है जब शिवसेना पार्टी का नाम और चुनाव चिह्न एकनाथ शिंदे की धड़े वाली शिवसेना को दिया गया है.

उद्धव ठाकरे औरंगजेब नाम के एक भारतीय सैनिक को अपना भाई रहे थे, जिनकी 2018 में हत्या कर दी गई थी.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

(ऐसे और भी पोस्ट के आर्काइव यहां और यहां देख सकते हैं.)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

ठाकरे किसके बारे में कर रहे थे बात?: वीडियो में ठाकरे आर्मी जवान औरंगजेब के बारे में बात कर रहे थे, न कि मुगल बादशाह औरंगजेब के बारे में. जवान औरंगजेब 2018 में जम्मू-कश्मीर में शहीद हो गए थे.

हमने सच का पता कैसे लगाया?: हमने उद्धव ठाकरे के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर जाकर देखा और हमें 19 फरवरी 2023 का एक वीडियो मिला.

  • वीडियो मुंबई के अंधेरी में आयोजित एक कार्यक्रम का है, जहां उद्धव मुंबई में रहने वाले उत्तर भारतीयों से बात कर रहे थे.

  • वीडियो में वो इस बारे में बात करना शुरू करते हैं कि वो हर उस शख्स को अपना भाई मानते हैं जो भारत को अपनी मातृभूमि मानता है.

  • वीडियो के 32:12 टाइमस्टैंप पर वो औरंगजेब के बारे में बात करना शुरू करते हैं.

वो कहते हैं, ''पिछले 3- 4 साल पहले की बात है. आप भूल गए होंगे या आपने शायद पढ़ा भी नहीं होगा. कश्मीर में हमारा एक फौजी था. वो छुट्टी लेकर अपने घर परिवार वालों से मिलने के लिए जा रहा था. आतंकवादियों ने उसे बीच रास्ते में किडनैप कर लिया और कुछ दिनों बाद उसकी बॉडी बुरी अवस्था में मिली. वो अपना था कि नहीं था, जिसने देश के लिए कुर्बानी दी. अगर मैं कहूं कि वो मेरा भाई था तो आप मुझसे पूछेंगे कि क्या आपको उसका नाम पता है? क्योंकि उसका नाम औरंगजेब था. वो मजहब से मुस्लिम होगा लेकिन उसने अपने देश के लिए कुर्बानी दी. क्या वो अपना भाई नहीं था. वो अपना भाई ही था.''

ऐसा ही एक भ्रामक दावा साल 2022 में भी वायरल हुआ था. तब दावा किया गया था कि उद्धव ठाकरे नें ''औरंगजेब को शहीद'' कहा है. आप हमारी ये फैक्ट चेक स्टोरी यहां पढ़ सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या हुआ था औरंगजेब के साथ?: राइफलमैन औरंगजेब 4 जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फैंट्री से थे और शोपियां के शादीमार्ग कैंप में तैनात थे.

  • घर के लिए छुट्टी पर जा रहे औरंगजेब को आतंकवादियों ने किडनैप कर उनकी हत्या कर दी थी.

निष्कर्ष: उद्धव ठाकरे इंडियन आर्मी के जवाब औरंगजेब के बारे में बात कर रहे थे. जिसे इस भ्रामक दावे से शेयर किया जा रहा है कि उन्होंने मुगल बादशाह औरंगजेब को शहीद और अपना भाई बताया है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×