ADVERTISEMENTREMOVE AD

CWG 2022: Birmingham में Sangita का कमाल, यहां परिवार गरीबी से बेहाल

CWG 2022: क्रिकेट को स्पोर्ट्स का असली वेल्थ समझने वाले लोग बाकी खेलों में गोल्ड, सिल्वर लाने वालों को कम जानते हैं?

Updated
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

भारत (India) से 215 सदस्यों का दल बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स (Birmingham Commonwealth Games) के लिए गया है. लेकिन क्या आप 215 में से 5 प्लेयर्स के भी नाम जानते हैं? 1-2-3-4-5 टाइम ओवर! हां पता है कि आप जानते हैं नीरज चोपड़ा चोट के कारण खेल नहीं रहे,लेकिन क्या उसके बाद कोई नाम याद आ रहा है? हकीकत ये है कि कई नाम हैं जिनसे मेडल की उम्मीद है.

मीरा बाई चानू, लवलीना, निखत जरीन, बजरंग पुनिया, हीमा दास.....ये लिस्ट लंबी है. जाहिर है क्रिकेट को ही स्पोर्ट्स का असली वेल्थ समझने वालों को देश के लिए बाकी खेलों में गोल्ड सिल्वर लाने वालों के बारे में कम जानकारी होती है. ऐसे देश में सरकारों को नॉन क्रिकेटर खिलाड़ियों की कम परवाह होती है.

नमस्कार मैं धनंजय कुमार...इस वीडियो में मैं आपको कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत का प्रतिनिधित्व करने गई एक ऐसी प्लेयर संगीता की कहानी लेकर आया हूं, जिनके घर हाल तक एक अदद टीवी नहीं था.

इस प्लेयर के बारे में आपको विस्तार से बताएंगे लेकिन पहले जान लीजिए कि भारत ने अब तक कॉमनवेल्थ में 503 मेडल जीते हैं लेकिन इनमें से 231 मेडल पिछले 3 गेम्स में आए. 2002 वाले एडिशन के बाद से भारत सबसे ज्यादा मेडल जीतने वाले दशों की टैली में हर बार टॉप 5 में रहा. इस साल एक अच्छी बात ये रही कि आपका फेवरेट खेल यानी क्रिकेट भी इसमें शामिल किया गया है? अब महिला क्रिकेट आपका कितना फेवरेट है, ये सवाल फिर कभी करेंगे!

भारतीय हॉकी प्लेयर संगीता की कहानी

अब बात करते हैं भारतीय महिला हॉकी टीम की एक प्लेयर की, जिसका घर अब तक एक अदद टीवी को मोहताज था. इस प्लेयर का नाम है संगीता कुमारी. हॉकी झारखंड ने इस हफ्ते इनके घर में टीवी लगवाया है ताकि बेटी को खेलते हुए परिवार देख सके. संगीता देश का नाम रौशन करने बर्मिंघम गई हैं, लेकिन कभी देश ने झारखंड में रह रही इस बच्ची का हाल नहीं पूछा. संगीता का परिवार आज भी कच्चे मकान में रहता है.

परिवार में मां-पिता के अलावा पांच बहनें और एक भाई है. कुछ ही महीने पहले संगीता को रेलवे में नौकरी मिली. रेलवे की नौकरी का पहला वेतन मिला, तो वे अपने गांव के बच्चों के लिए हॉकी के बॉल लेकर गईं. 2016 में अंडर 18 एशिया कप में भारतीय महिला टीम ने कांस्य पदक जीता था. भारत की ओर से इस प्रतियोगिता में कुल 14 गोल किये गये थे, जिसमें से आठ गोल अकेले संगीता के नाम थे. लेकिन इसके बाद भी आर्थिक मोर्चे पर उनकी जंग जारी रही.

खेल जगत के ऐसे ही जरूरी वीडियो मैं आपके लिए लेकर आऊंगा क्विंट हिंदी पर हर हफ्ते रविवार शाम 7 बजे....जाते-जाते आपके लिए एक सवाल....जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देना है. सवाल- कॉमनवेल्थ खेल कितने सालों में आयोजित होते हैं?

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×