ADVERTISEMENT

दिल्ली की गलियों में 'रोमांस' करते स्कूली बच्चों का ये वीडियो स्क्रिप्टेड है

वीडियो को 'लव जिहाद' नैरेटिव से शेयर कर झूठा कम्युनल दावा किया जा रहा है.

Published
दिल्ली की गलियों में 'रोमांस' करते स्कूली बच्चों का ये वीडियो स्क्रिप्टेड है
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में एक लड़का और दो लड़कियां स्कूल यूनिफॉर्म में एक गली में खड़े दिख रहे हैं. वीडियो में लड़का एक लड़की को उठाकर उसे गले लगाते दिख रहा है. वहीं इस घटना को एक शख्स बालकनी से रिकॉर्ड कर रहा है और उन्हें भगाने के लिए उन पर पानी फेंकता है.

ADVERTISEMENT

वीडियो के आखिर में, एक शख्स कहता है कि दिल्ली में स्कूली बच्चों का यही हाल है और ये बहुत आम हो गया है. वीडियो को 'लव जिहाद' नैरेटिव के साथ कम्यूनल एंगल से शेयर किया जा रहा है.

हालांकि, हमने पाया कि ये वीडियो स्क्रिप्टेड है. पिछले कुछ महीनों से ऐसे कई वीडियो सोशल मीडिया पर भ्रामक दावे से शेयर किए जा रहे हैं.

ADVERTISEMENT

दावा

इस वीडियो के साथ शेयर किए जा रहे दावों में लड़के को मुस्लिम और लड़कियों को हिंदू समुदाय का बताया जा रहा है.

दावे में वीडियो दिल्ली का बताया जा रहा है.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

ऐसे ही और दावों के आर्काइव आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

ये वीडियो 5:39 मिनट का है. हमने इसे ध्यान से देखा तो पाया कि 31 सेकेंड के टाइमस्टैंप पर एक डिसक्लेमर दिखता है.

इसमें कहा गया है, ''इस वीडियो की सामग्री को सिर्फ मनोरंजन के उद्देश्य से बनाई गई मानी जानी चाहिए. यहां दी गई जानकारी का उद्देश्य इससे संबंधित सलाह या क्रेडिट विश्लेषण का सोर्स नहीं है.''

वीडियो में डिसक्लेमर का इस्तेमाल किया गया है.

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

इसके बाद, हमने वीडियो के कीफ्रेम निकालकर उनमें से उस कीफ्रेम पर रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसमें बच्चों पर पानी फेंकने वाला शख्स दिख रहा है.

हमें एक ऑनलाइन मीडिया आउटलेट Maxtern का एक आर्टिकल मिला, जिसमें इस शख्स की कुछ तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया था.

आर्टिकल के मुताबिक, ये शख्स अंकुर जतुस्करन है जो दिल्ली का एक यूट्यूबर और म्यूजीशियन है.
ADVERTISEMENT

हमने फेसबुक पर इस शख्स की प्रोफाइल सर्च की. हमने पाया कि ये यूट्यूब सहित अपने कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर इसी तरह के स्क्रिप्टेड वीडियो अपलोड करता है. इसके फेसबुक पेज पर दिए गए बायों में बताया गया है: 'ये पेज मेरे यूट्यूब चैनल पर मेरे प्रैंक वीडियोज के बारे में है.''

उसे कई दूसरे वीडियो में भी देखा जा सकता है.

अंकुर की दो अलग-अलग तस्वीरें

(फोटो: Altered by the Quint)

मतलब साफ है कि एक स्क्रिप्टेड वीडियो को दिल्ली में असली घटना का बताकर शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×