ADVERTISEMENT

Lakhimpur Murder: पुलिस की जांच पर पीड़ित-आरोपी किसी को भरोसा नहीं-Ground Report

Lakhimpur Kheri Rape & Murder Case में आरोपियों के परिवार वाले भी CBI जांच की मांग कर रहे हैं.

Published
ADVERTISEMENT

बीते 14 सितंबर को यूपी के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में दो दलित बहनों (Dalit Minor Girls Killed) का शव पेड़ से लटका मिला. पुलिस ने पॉक्सो, रेप, हत्या समेत गंभीर धाराओं के तहत केस दर्ज कर बलात्कार और हत्या के सनसनीखेज मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार कर मामले को सुलझाने का दावा किया.

ADVERTISEMENT

लेकिन, पुलिस की जांच पर कई सवाल उठ रहे हैं. पुलिस की जांच पर ना पीड़ितों को यकीन है और ना ही आरोपियों के परिवार को. पीड़ित परिवार ने पुलिस की कार्यशैली पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

इसी बीच जब क्विंट ने लखीमपुर खीरी का दौरा किया तो ग्राउंड रिपोर्ट में भी कई चीजें निकलकर सामने आई.

पुलिस और परिजनों का अलग-अलग बयान

वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस ने दावा किया कि "आरोपी लड़कियों को बहला-फुसलाकर खेत में ले गए थे और इच्छा के विरुद्ध लड़कियों से शारिरिक सम्बन्ध बनाए थे."

वहीं, पीड़ित परिवार के परिजनों का आरोप है कि आरोपी बच्ची को घसीटते हुए लेकर गए थे.

इस घटना को बताते-बताते पीड़िता की मां की आंखे नम हो जाती हैं और बार-बार बेहोश होती हैं. उनका कहना है कि "जब आरोपी लड़की को घसीटते हुए ले जा रहे थे तो उन्होंने अपनी बच्ची को बचाने के लिए आरोपियों का बहुत दूर तक पीछा भी किया."

गन्ने के खेत के बगल से गुजरती ईंट की बनी पतली सड़क के किनारे पड़ा है राख का ढेर. और उसके ऊपर पड़ी है पीली चप्पलों की एक जोड़ी, जिसपर शायद किसी की नजर नहीं पड़ी थी. लेकिन परिजनों का आरोप है कि ये चप्पल उन्हीं दोनों बच्ची में से एक बच्ची की है, जब आरोपी घसीटते हुए ले जा रहे थे तब रास्ते में चप्पल गिर गई थी.

ADVERTISEMENT
"हमारी बहनों को घसीटते हुए ले गए और बलात्कार कर पेड़ से लटका दिया."
मृत बहनों का भाई

लड़कियों का आरोपियों के साथ जाने के सवाल पर मृतका के भाई ने पुलिस पर पैसे के लिए झूठ बोलने का गंभीर आरोप लगाया.

आरोपियों के परिवार ने की CBI जांच की मांग

पुलिस ने इस मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनमें से 5 आरोपी पास के गांव के हैं और छठा आरोपी का घर पीड़िता के घर के पास ही है. आरोपियों के घर वालों का मानना है कि उनके बच्चे निर्दोष और नाबालिग हैं और इस पूरे मामले में स्थानीय पुलिस की जांच पर सवालिया निशान उठाते हुए CBI जांच की मांग की है.

घटना में आरोपी के पिता का कहना है कि उनके बेटे के संबंध लड़की से जरूर थे लेकिन वह हत्या नहीं कर सकता.

"अगर CBI की जांच हो जाए तो सब सच्चाई सामने आ जाएगी. हमारा बच्चा खून नहीं कर सकता"
आरोपी का पिता
ADVERTISEMENT

इस पूरे मामले में पुलिस के रवैये पर शुरू से ही सवाल उठ रहा है. इस सनसनीखेज वारदात के बाद पीड़ित परिवार को सांत्वना देने के बजाय पुलिस अधीक्षक डांटते हुए दिखे थे.

पीड़ित परिवार की मांग गिरफ्तार अभियुक्त को मिले फांसी की सजा.

"माननीय मुख्यमंत्री से हाथ जोड़कर निवेदन है कि जो लड़का गिफ्तार हुआ है सबसे पहले उसकी फांसी होनी चाहिए."
पीड़िता का भाई

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×